July 12, 2024 5:51 pm
Search
Close this search box.
Srinath University Adv (1)

अखिल भारतीय ग्राहक पंचायत के स्वर्ण जयंती आयोजन समिति के द्वारा डॉ भीमराव अंबेडकर जयंती के साथ-साथ महिला आयाम और विधि आयाम के  संयुक्त तत्वाधान में विचार गोष्ठी का आयोजन

सोशल संवाद/डेस्क : अखिल भारतीय ग्राहक पंचायत के स्वर्ण जयंती आयोजन समिति के द्वारा डॉ भीमराव अंबेडकर जयंती के साथ-साथ महिला आयाम और विधि आयाम की संयुक्त विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया जिसमें संविधान प्रदत्त ग्राहक के अधिकार को, उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम और ग्राहक आयोग की भूमिका के परिपेक्ष्य में इस विषय को समझा गया।  इस कार्यक्रम का आयोजन टिनप्लेट स्थित केबल क्लब  के मुख्य सभागार में किया गया । अतिथि वक्ता के तौर पर अधिवक्ता कंचन मिश्रा और सूरज प्रकाश की उपस्थिति रही। कार्यक्रम का आरंभ मां भारती ,स्वामी विवेकानंद और संविधान के निर्माता डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के चित्र पर पुष्प अर्पित कर और दीप प्रज्वलित कर किया गया। तत्पश्चात अतिथियों का स्वागत पुष्प और प्रतीक चिन्ह देकर किया गया । संगठन मंत्र का वाचन प्रचार प्रसार टोली के अंकेश भुइंया ने किया। सभी अतिथियों से परिचय कराया रौशन कुमार जी ने ।

स्वागत वक्तव्य देते हुए डॉक्टर अनीता शर्मा ने कहा कि जागरूक होना ही सही अर्थों में  शिक्षित होना है । इसलिए हम सब को अपने अधिकारों के प्रति सजग होना होगा। भीमराव अंबेडकर जी ने भी हमें यही संदेश दिया था । विषय प्रवेश कराते हुए झारखंड प्रांत की महिला आयाम प्रमुख रूबी लाल ने कहा कि अपने अधिकारों को जानने के लिए जरूरी है कि हम उपभोक्ता संबंधी कानून के बारे में भी जानकारी रखें और इसी विषय पर बात करने के लिए आज इस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया है।

अपनी बात रखते हुए अतिथि वक्ता सूरज प्रकाश जी ने कहा कि आए दिन इस तरह के मामले कोर्ट में आते हैं पर कई बार यह देखा गया है कि शिकायत करने वाला ही पीछे हट जाता है या जानकारी के अभाव में अपनी बात पर दृढ नहीं रहता है। जरूरी है कि हम इस कानून को जानें समझें और इसका उपयोग करें। अतिथि वक्ता अधिवक्ता कंचन मिश्रा ने कहा कि ऑनलाइन खरीदारी में भी आपको 48 घंटे के अंदर ही शिकायत दर्ज करना जरूरी होता है और मेल करने के बाद एक महीने के अंदर ही आपकी शिकायत का निपटारा हो जाता है।

जरूरी यह है कि हम इस सारी प्रक्रिया से अवगत रहे तभी हम अपने अधिकारों की सुरक्षा कर सकते हैं । अपने वक्तव्य में झारखंड के संगठन मंत्री श्री शिवाजी क्रांति ने कहा कि सारे  राष्ट्र के जन  एक  है, ऐसी

विचारधारा डॉ. आंबेडकरजी  की  थी l वे जुझारू  नेता,  लेखक, बेहतर  अर्थशास्त्री, संपादक, 

शिक्षक, समाज सुधारक, संविधान  लेखा के  तौर पर जाने  गए । डॉ भीमराव अंबेडकर ने हमेशा जागरूक नागरिक बनने पर बल दिया था और अपने अधिकारों के प्रति सजग रहने की बात कही थी । अखिल भारतीय ग्राहक पंचायत के मूल सिद्धांत में भी यही तथ्य है और इसी बात को ध्यान में रखते हुए उनकी जयंती के उपलक्ष्य में इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया। धन्यवाद ज्ञापन प्रस्तुत किया पूर्वी सिंहभूम जिला के अध्यक्ष पप्पू सिंह जी ने । तत्पश्चात शांति मंत्र का वाचन सबों ने सामूहिक रूप से किया और इसके साथ विचार गोष्ठी का समापन हो गया।

इस विचार गोष्ठी में झारखंड प्रांत की  सचिव डॉक्टर कल्याणी कबीर, पूर्वी सिंहभूम के सचिव चंचल लकड़ा, अधिवक्ता महेश वर्मा ,ध्रुव कुमार, शुभांकर सिकदर, रवि साहु, विकास कुमार, प्रीति सोनल जी, पप्पू राव, प्रभु , नवीन तिवारी, अमित पाठक, रीना परितोष, सुष्मिता मिश्रा,  और अन्य गणमान्य जन उपस्थित थे। विचार गोष्ठी में कुल 29 लोगों की सम्माननीय उपस्थिति रही।

Print
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
जाने छठ पूजा से जुड़ी ये खास बाते विराट कोहली का जन्म एक मध्यमवर्गीय परिवार में 5 नवंबर 1988 को हुआ. बॉलीवुड की ये top 5 फेमस अभिनेत्रिया, जिन्होंने क्रिकेटर्स के साथ की शादी दिवाली पर पिछले 500 सालों में नहीं बना ऐसा दुर्लभ महासंयोग सोना खरीदने से पहले खुद पहचानें असली है या नकली धनतेरस में भूल कर भी न ख़रीदे ये वस्तुएं दिवाली पर रंगोली कहीं गलत तो नहीं बना रहे Ananya Panday करेगीं अपने से 13 साल बड़े Actor से शादी WhatsApp में आ रहे 5 कमाल के फीचर ये कपल को जमकर किया जा रहा ट्रोल…बच्ची जैसी दिखती है पत्नी