July 15, 2024 4:59 am
Search
Close this search box.
Srinath University Adv (1)

सिंहभूम सीट से जोबा नहीं, हो समाज से प्रत्याशी देने की मांग

सोशल संवाद/जमशेदपुर : आदिवासी ‘हो’ समाज के बुद्धिजीवी,प्रबुद्ध, ‘हो’ समाजिक कार्यकर्ताओ की एक बैठक प्रो० गीता सुन्डी की अध्यक्षता में समुदायिक भवन जयराटोला, जमशेदपुर,पूर्वी सिंहभूम में हुई। कोल्हान प्रमंडल ‘हो’ बहुल क्षेत्र है, 3 जिलों मे ‘हो’ समुदायो की जनसंख्या क्रमशः पश्चिम सिंहभूम – 10 लाख (लगभग), सरायकेला-खरसावां- 2 लाख (लगभग),पूर्वी सिंहभूम – 2 लाख(लगभग) अबादी है। सिंहभूम लोकसभा संसदीय क्षेत्र (अनुसूचित जनजाति आरक्षित) हो बहुल क्षेत्र है। इस संसदीय क्षेत्र में 61%. आदिवासी मत‌दाता है जिसमे क्रमश: हो समुदाय 54% संथाल समुदाय-05%, उरॉव समुदाय – 01%, एवं मुंडा समुदाय-01% है। झारखण्ड राज्य में संसदीय चुनाव में संथाल परगना क्षेत्र से 2 संथाल जनजाति को प्रतिनिधित्व मिलता है, लोहरदगा संसदीय क्षेत्र से एक उराँव जनजाति को प्रतिनिधित्व मिलता है, खूँटी संसदीय क्षेत्र से एक मुंडा जनजाति को प्रतिनिधित्व मिलता है सिंहभूम संसदीय क्षेत्र ‘हो’ बहुल है इसलिए कम से कम सिंहभूम संसदीय सीट से ‘हो’ जनजाति से प्रत्याशी बनना चाहिए या प्रतिनिधित्व मिलना चाहिए।

महागठबंधन को प्रत्याशी घोषित करने से पहले समाजिक अंकेक्षण, नफा नुकसान के बारे में सोच समझ कर प्रत्याशी का चुनाव करना चाहिए।जिसका लाभ एवं प्रभाव तीनों लोकसभा सीट क्रमशः सिंहभूम, खूंटी, जमशेदपुर लोकसभा में मिल सके । आज के तिथि में आप ‘हो’ समाज से प्रतिनिधित्व नही दे कर ‘हो’ समाज को राजनीति मे दरकिनार नही कर सकते है । हमारे समाज की ओर से महागठबंधन (कांग्रेस, झामुमो, राजद एवं सीपीकाई माले) से माँग है कि सिंहभूम संसदीय क्षेत्र से ‘हो’ समुदाय से उम्मीदवार या प्रत्याशी बनाया जाय।

अगर महागंठबंधन पुर्नविचार इस वार्णित विषय पर विचार नहीं करता है तो वर्तमान लोकसभा 2024 चुनाव एवं आगामी विधान सभा 2024 चुनाव में महागठबंधन को हार सामना करना पड़ सकता है।
बैठक उपस्थित- प्रो० गीता सुन्डी, प्रो० सोमनाथ पाड़े़या, श्री सन्तोष पुर्ती,अधिवक्ता मनोज मेलगांडी,अधिवक्ता सुकान्ती हेम्ब्रोम, कृष्णा तिरिया, सुरा गगाराई, रमेश बंकिरा, साधो जामुदा, जुरिया, तायसुम बाबु बिरूवा, चन्द्र मोहन तिरिया , गोपाल बान्डरा, बुधमुनि संवैया, सुशीला हेम्ब्रोम, मानी तिरिया, उषा कुदादा, बेबी पुर्ती, लक्ष्मी संवैया, मीना हेस्सा, रानी पूर्ति, जेमा गगाराई आदि |

Print
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
जाने छठ पूजा से जुड़ी ये खास बाते विराट कोहली का जन्म एक मध्यमवर्गीय परिवार में 5 नवंबर 1988 को हुआ. बॉलीवुड की ये top 5 फेमस अभिनेत्रिया, जिन्होंने क्रिकेटर्स के साथ की शादी दिवाली पर पिछले 500 सालों में नहीं बना ऐसा दुर्लभ महासंयोग सोना खरीदने से पहले खुद पहचानें असली है या नकली धनतेरस में भूल कर भी न ख़रीदे ये वस्तुएं दिवाली पर रंगोली कहीं गलत तो नहीं बना रहे Ananya Panday करेगीं अपने से 13 साल बड़े Actor से शादी WhatsApp में आ रहे 5 कमाल के फीचर ये कपल को जमकर किया जा रहा ट्रोल…बच्ची जैसी दिखती है पत्नी