July 18, 2024 9:53 am
Search
Close this search box.

अखिल भारतीय पूर्व सैनिक सेवा परिषद जमशेदपुर ने रानी लक्ष्मी बाई के वीरता,साहस और देशभक्ति को किया नमन

अखिल भारतीय पूर्व सैनिक सेवा परिषद जमशेदपुर ने रानी लक्ष्मी बाई को किया नमन

सोशल संवाद / जमशेदपुर : 1857 के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम में अंग्रेजी हुकूमत के चूल्हे हिला देने वाली महान वीरांगना नारी शक्ति की प्रतीक महारानी लक्ष्मी बाई जी की बलिदान दिवस पर उन्हें सादर नमन करने के लिए अखिल भारतीय पूर्व सैनिक सेवा परिषद जमशेदपुर के बैनर तले लौहनगरी के देशभक्तों का हुजूम शहीद स्थल गोलमुरी पहुंचा।महारानी लक्ष्मी बाई जी का बलिदान इस देश की अमूल्य धरोहर है। उपर्युक्त बात सैन्य मातृशक्ति की प्रदेश महासचिव मंजुला ने अपने संबोधन में कहा। कार्यक्रम का शुभारंभ वीर शहीदों के बलिदान को याद कर एवं उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित कर किया गया ।इसके बाद रानी लक्ष्मी बाई के बलिदान दिवस पर उनकी वीरता, साहस और देशभक्ति को नमन करने हेतु कई मातृसक्ति भी कार्यक्रम में सम्मिलित हुई।

यह भी पढ़े : भाजपा गोलमुरि मण्डल अंतर्गत उत्कल समाज गोलमुरि में की गई बैठक

रानी लक्ष्मीबाई ने अंग्रेजी हुकूमत के आगे कभी झुकना स्वीकार नहीं किया और आखिरी दम तक झांसी की रक्षा के लिए अंग्रेजों से लड़ती रहीं। रानी लक्ष्मीबाई का पराक्रम और साहस आज की नारियों के लिए प्रेरणादायी है एवं उन्हें अपने कर्तव्यों के निर्वहन के साथ-साथ साथ स्वयं की रक्षा खुद करने की प्रेरणा देती है।आज के दौर में अदम्य साहस, अदभुत शौर्य एवं पराक्रम की प्रतिमूर्ति अमर शहीद वीरांगना रानी लक्ष्मीबाई नारी शक्ति के साथ साथ सभी युवा पीढ़ी के लिए भी प्रेरणादायक उद्धरण है।झांसी की रानी ने मातृ भूमि के गौरव और स्वाभिमान की रक्षा के लिए अपने प्राण न्यौछावर कर दिए।

कार्यक्रम का संचालन नीता शर्मा ने किया और इस अवसर पर पूर्व सैनिकों द्वारा शहीदों को पुष्पांजलि दी गई एवं दीप प्रज्वलित किया गया। रूबी सिंह द्वारा धन्यवाद ज्ञापन किया गया। मौके पर भारत माता की जय ,वंदे मातरम भारत और वीर झांसी की रानी के उद्घोष से वातावरण गुंजायमान रहा। आगामी 23 जून रविवार को अखिल भारतीय पूर्व सैनिक सेवा परिषद जमशेदपुर का अंग सैन्य मातृशक्ति द्वारा वीरांगना झांसी की रानी के शौर्य एवं पराक्रम को नमन करने हेतु हिंदुस्तान मित्र मंडल में भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। कार्यक्रम में मंजुला,शर्मिला,पूनम रूबी,कंचन,रीना, ,पवन कुमार,अनिल सिन्हा,हरे राम,दयाभूषण ,हरिशंकर पांडे एवं अन्य मौजूद रहे।

Print
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
जाने छठ पूजा से जुड़ी ये खास बाते विराट कोहली का जन्म एक मध्यमवर्गीय परिवार में 5 नवंबर 1988 को हुआ. बॉलीवुड की ये top 5 फेमस अभिनेत्रिया, जिन्होंने क्रिकेटर्स के साथ की शादी दिवाली पर पिछले 500 सालों में नहीं बना ऐसा दुर्लभ महासंयोग सोना खरीदने से पहले खुद पहचानें असली है या नकली धनतेरस में भूल कर भी न ख़रीदे ये वस्तुएं दिवाली पर रंगोली कहीं गलत तो नहीं बना रहे Ananya Panday करेगीं अपने से 13 साल बड़े Actor से शादी WhatsApp में आ रहे 5 कमाल के फीचर ये कपल को जमकर किया जा रहा ट्रोल…बच्ची जैसी दिखती है पत्नी