July 17, 2024 3:21 pm
Search
Close this search box.
Srinath University Adv (1)

केजरीवाल की इंसुलिन रोककर उन्हें धीमी मौत देने की खतरनाक साजिश कर रही भाजपा- दिलीप पांडे

सोशल संवाद/दिल्ली( रिपोर्ट – सिद्धार्थ प्रकाश ) : आम आदमी पार्टी ने जेल में सीएम अरविंद केजरीवाल को इंसुलिन नहीं मुहैया कराने पर सवाल खड़ा किया है। ‘‘आप’’ के वरिष्ठ नेता दिलीप पांडे ने कहा कि भाजपा अरविंद केजरीवाल की इंसुलिन रोक कर उनको धीमी मौत देने की खरनाक साजिश कर रही है। क्योंकि सबको पता है कि अगर शुगर के मरीज को इंसुलिन न दी जाए तो धीरे-धीर उसकी आंख, किडनी और लीवर खराब हो जाता है। साथ ही दर्जन भर अन्य बीमारियों को भी न्यौता देता है। अरविंद केजरीवाल को इंसुलिन लेनी है या नहीं लेनी है, यह जेल प्रशासन और एलजी नहीं तय कर सकते, बल्कि उनका शुगर लेवल तय करेगा। उन्होंने कहा कि अगर भाजपा ने सीएम केजरीवाल की जान से खिलवाड़ किया तो देश के लोग उसे कभी माफ नहीं करेंगे।

शनिवार को पार्टी मुख्यालय में प्रेसवार्ता कर ‘‘आप’’ के वरिष्ठ नेता एवं विधायक दिलीप पांडे ने कहा कि जिस तरह से बीजेपी देश के लोकप्रिय मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ घिनौनी साजिश रच रही है, भारतीय की राजनीति का स्तर इतना नीचे कभी नहीं गिरा होगा। यह षड़यंत्र और गिरी हुई राजनीतिक सोच न भूतो न भविष्यति वाली परिस्थिति है। अरविंद केजरीवाल बीजेपी की साजिश का शिकार होकार तिहाड़ जेल में कैद हैं। यह बीजेपी की गिरी हुई सोच है कि केजरीवाल को जेल मैनुअल के हिसाब से एक समान्य कैदी को मिलने वाले अधिकार भी नहीं दिए जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि बीजेपी गलतफहमी में है कि उसकी साजिश किसी को दिख नहीं रही है। पूरा देश देख और समझ रहा है कि भाजपा क्या करने की कोशिश कर रही है। भाजपा के 2 रुपए प्रति ट्वीट पाने वाले आईटी सेल के टट्टू एक झूठतंत्र के तहत मनगढ़ंत कहानियां शुरु कर देते हैं। भाजपा क्या करने की कोशिश कर रही है, यह सबको समझ में आ रहा है। एक तरफ भाजपा यह नैरेटिव बना रही है कि अरविंद केजरीवाल कुछ ऐसा खा रहे हैं जो उन्हें नहीं खाना चाहिए और दूसरी तरफ उनका इंसुलिन रोककर उनकी जान से खिलवाड़ कर रही हैं। भाजपा यह नैरेटिव इसलिए बनाना चाहती है ताकि अगर कल को कुछ ऊंच-नीच हुई तो वो कह सके कि हमने तो बताया था कि अरविंद केजरीवाल सबकुछ खा रहे थे। ऐसी साजिश करते हुए भाजपा को जरा भी शर्म नहीं आ रही है।

दिलीप पांडे ने कहा कि दुनिया में शुगर से सबसे ज्यादा मरीज भारत में हैं। मेरी मां भी शुगर की मरीज हैं। हम अपने बुजुर्गों की फिक्र करते हैं, उनकी परवाह करते हैं। उनको समय से दवाइयां देते हैं, उनके खाने पीने और एक्सरसाइज का ध्यान रखते हैं। अगर साल भर में उनका आम या अमरूद खाने का मन कर जाए तो उनकी जान नहीं लेते हैं। या वो आम, अमरूद खा लें तो ये नहीं कहते कि अब मर जाओ, हमको मतलब नहीं है। इंसुलिन नहीं मिलेगी, दवाई नहीं मिलेगी। हम अपने घर के बुजुर्गों के साथ ये बर्ताव नहीं करते हैं।

दिलीप पांडे ने कहा कि बीजेपी के इशारे पर अपने घुटनों के बल पर रेंग रहा जेल प्रशासन, एक चुने हुए मुख्यमंत्री को कहने के बावजूद इंसुलिन क्यों नहीं दे रहा है, ये दिल्ली और देश के लोग जानना चाहते हैं। आपकी कहानियां, आपके ट्रोल से बनाया गया नैरेटिव एक तरफ है। अरविंद केजरीवाल की इंसुलिन क्यों रोक रहे हैं, उन्हें किसके कहने पर इंसुलिन नहीं मिल रही है? अरविंद केजरीवाल की इंसुलिन रोककर बीजेपी कौन सी साजिश को अंजाम देना चाहती है? बीजेपी बताए कि एक चुने हुए मुख्यमंत्री को केवल इस बात के लिए कोर्ट क्यों जाना पड़ रहा है कि वो अपने डॉक्टर से जांच करवा सकें और उनसे इंसुलिन की डोज लिखवा सकें। क्योंकि बीजेपी एक साजिश के तहत काम कर रही है। सब जानते हैं कि डायबिटीज महज एक बीमारी नहीं है, बल्कि 10 अन्य बीमारियों का स्वागत करने वाला दरवाजा है।

दिलीप पांडे ने कहा कि पूरा देश जानता है कि अगर डायबिटीज हुआ तो किसी भी व्यक्ति को कभी भी 10 अलग-अलग बीमारियां हो सकती हैं। अगर एक डायबिटीज के मरीज को इंसुलिन की जरूरत है और उसकी इंसुलिन रोकी गई तो धीरे-धीरे उसकी आंख खराब होगी, किडनी और लिवर खराब होगा, शरीर के बाकी अंगों पर भी असर पड़ेगा। सब जानने हैं कि अगर डायबिटीज कंट्रोल में नहीं रही तो वो कोई भी हो वो धीमी मौत की ओर आगे बढ़ रहा है। बीजेपी जेल में अरविंद केजरीवाल की इंसुलिन रोककर उन्हें एक धीमी मौत देने की साजिश कर रही है। मैं बीजेपी से पूरी जिम्मेदारी से कहता हूं कि चाहे आपकी मशीनरी कितनी भी ताकतवर क्यों न हो। आपकी बौखलाहट से पता चल रहा है कि आपके पैरों के नीचे से आपकी जमीन खिसक रही है। दिल्ली और देश के लोग देख रहे हैं कि आपकी राजनीति का स्तर इतना नीचे गिर रहा है। अगर आप इतने नीचे स्तर तक जाकर अरविंद केजरीवाल की जान से खिलवाड़ करोगे, तो दिल्ली और देश के लोग आने वाले 100-200 सालों तक बीजेपी को माफ नहीं करेंगे।

दिलीप पांडे ने कहा बीजेपी, उसके इशारे पर काम करने वाले अधिकारी और जेल के प्रशासन के लोग ये समझ लें कि अब भी देरी नहीं हुई है। कहानियां रचना और गढ़ना बंद करो। अरविंद केजरीवाल की शुगर लेवल की नियमित रूप से जांच हो रही है। 12 अप्रैल 2024 से उनका शुगर लगातार 250 से 300 बनी हुई है, जो उनके लिए घातक है। ये उनके शरीर के बाकी अंगों के लिए घातक है, उनके लिए जानलेवा है। उन्हें डॉक्टर से सलाह लेकर जांच करके इंसुलिन लेने जरूरत है। इसमें किसी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। आपको कोई अधिकार नहीं है कि आप अरविंद केजरीवाल की इंसुलिन रोकें। आपको एक लोकप्रिय मुख्यमंत्री की जान से खिलवाड़ करने का कोई हक नहीं बनता। आपको कोई अधिकार नहीं है कि आप इन अधिकारियों की आड़ में अरविंद केजरीवाल की धीमी मौत की साजिश करें। आप इसे दिल्ली के लोगों की चेतावनी समझ सकते हैं। आप अरविंद केजरीवाल की इंसुलिन नहीं रोक सकते हैं। वो शुगर के मरीज हैं उन्हें जेल प्रशासन द्वारा तुरंत इंसुलिन मुहैया करवाया जाना चाहिए। अरविंद केजरीवाल को कैद करके आप बहादुर बन रहे हैं। आप शेर बन रहे हैं।

Print
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
जाने छठ पूजा से जुड़ी ये खास बाते विराट कोहली का जन्म एक मध्यमवर्गीय परिवार में 5 नवंबर 1988 को हुआ. बॉलीवुड की ये top 5 फेमस अभिनेत्रिया, जिन्होंने क्रिकेटर्स के साथ की शादी दिवाली पर पिछले 500 सालों में नहीं बना ऐसा दुर्लभ महासंयोग सोना खरीदने से पहले खुद पहचानें असली है या नकली धनतेरस में भूल कर भी न ख़रीदे ये वस्तुएं दिवाली पर रंगोली कहीं गलत तो नहीं बना रहे Ananya Panday करेगीं अपने से 13 साल बड़े Actor से शादी WhatsApp में आ रहे 5 कमाल के फीचर ये कपल को जमकर किया जा रहा ट्रोल…बच्ची जैसी दिखती है पत्नी