February 24, 2024 6:04 pm

विद्यार्थियों का हेयरकट ठीक नहीं होने पर 52 छात्रों को एग्जाम देने से रोका गया….परिजनों ने किया विरोध प्रदर्शन

सोशल संवाद/डेस्क : झारखंड के राजधानी रांची में एक स्कूल का अजीब कारनामा सामने आया है। विद्यार्थियों का हेयरकट ठीक नहीं होने पर स्कूल ने उन्हें प्री बोर्ड की परीक्षा देने से वंचित कर दिया। मामला सेंट जेवियर्स स्कूल, डोरंडा का है। शनिवार को 10वीं के 52 छात्रों को प्री बोर्ड देने से रोका गया। स्कूल प्रबंधन का कहना था कि इन छात्रों ने हेयरकट सही तरीके से नहीं कराए हैं। फैंसी हेयर स्टाइल रखा है, जो स्कूल के अनुशासन के खिलाफ है।

शनिवार को 10वीं के छात्रों का जियोग्राफी विषय का पेपर था। परीक्षा देने आए कुछ छात्रों को सही हेयरकट नहीं होने के कारण पहले अलग रखा गया, फिर परीक्षा नहीं देने दिया गया। सूचना मिलने पर कुछ अभिभावकों ने कहा कि बच्चे हमेशा अनुशासन में रहते हैं। इन दिनों छुट्टी थी तो हेटरकट नहीं कराया। ऐसे में स्कूल को चाहिए था कि छात्रों को चेतावनी देकर परीक्षा में शामिल करते। कहा, बोर्ड परीक्षा से पहले स्कूल के ऐसे व्यवहार से बच्चों का मनोबल कमजोर होगा। स्कूल को कार्रवाई से पहले चेतावनी जरूर देनी चाहिए थी।

इधर, इस मामले में स्कूल प्रबंधन की ओर से बताया गया कि जिन छात्रों को परीक्षा से रोका गया है, उनकी परीक्षा बाद में ली जाएगाी। छात्रों को कई बार ठीक से हेयरकट के साथ स्कूल आने के लिए कहा गया था, लेकिन छात्र ध्यान नहीं दे रहे थे। ऐसे में उन्हें परीक्षा देने से रोका गया। इस विषय की परीक्षा उन छात्रों के लिए बाद में आयोजित की जाएगी। वहीं, इस मामले में निजी स्कूलों की संस्था पासवा के पूर्व अध्यक्ष आलोक दुबे ने कहा कि अनुशासन भी जरूरी है, लेकिन बच्चों को परीक्षा से वंचित करना सही कार्रवाई नहीं है। इस मामले में प्राचार्य से बात की जाएगी।

Our channels

और पढ़ें