February 27, 2024 3:37 pm

महुआ मोइत्रा पर बंगाल बीजेपी अध्यक्ष का पलटवार कहा- चीरहरण द्रौपदी का हुआ था शूर्पणखा का नहीं…

सोशल संवाद/डेस्क : कैश फॉर क्वेरी मामले में तृणमूल कांग्रेस (TMC) सांसद महुआ मोइत्रा की सदस्यता खतरे में पड़ गई है। एथिक्स कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में उनकी सदस्यता रद्द करने की सिफारिश की है। इससे पहले महुआ ने खुद की तुलना देवी दुर्गा से की है। साथ ही महाभारत का भी जिक्र किया। उनके इस बयान पर पश्चिम बंगाल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने पलटवार किया है। उन्होंने एक तरह से महुआ की तुलना रावण की बहन शूर्पणखा से की है।

सुकांत मजुमदार ने कहा, ‘चीरहरण द्रौपदी का हुआ था, शूर्पणखा का नहीं। इस मामले में महाभारत नहीं होगा। महाभारत के कृष्ण और अर्जुन तो इधर हैं। पीएम मोदी और अमित शाह। महाभारत धर्म की रक्षा के लिए हुआ था। महुआ मोइत्रा ने अधर्म किया है। महाभारत में भी अधर्म की हार हुई थी और धर्म की जीत। इस बार भी धर्म की जीत होगी।’

आपको बता दें कि आज लोकसभा की आचार समिति के अध्यक्ष विनोद कुमार सोनकर ने सदन के पटल पर वह रिपोर्ट रखी जिसमें तृणमूल कांग्रेस की सांसद महुआ मोइत्रा को निष्कासित करने की सिफारिश की गई है। आज सुबह ‘कैश फॉर क्वेरी’ मामले में एथिक्स रिपोर्ट को लेकर तृणमूल कांग्रेस सांसद महुआ मोइत्रा ने कहा, “हम देखेंगे… जब नाश मनुज पर छाता है पहले विवेक मर जाता है। इन्होंने वस्त्रहरण शरू किया है तो अब महाभारत का रण देखिए।

Our channels

और पढ़ें