February 28, 2024 12:18 pm

Birth Certificate: Apply & check stauts Jharkhand

birth certificate online appy
Advertise

अगर आप jharkhand के निवासी है और आप अपने बच्चों का Birth Certificate यानि की जन्म प्रमाण पत्र बनवाना चाहते है और इसके लिए आप ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है तो हमारे इस आर्टिकल की मदद से आपको सारी जानकारी मिल जाएगी.

Birth Certificate Apply Jharkhand| जन्म प्रमाण पत्र आवेदन

विषयBirth Certificate Apply
लाभार्थीराज्य के सभी निवासी
ऑफिसियल वेबसाइटwww.jharsewa.jharkhand.gov.in
हेल्पलाइन नंबर0651-2400 877

झारखंड Birth Certificate क्या है | Jharkhand Birth certificate kya hai  

Birth Certificate एक बहुत जरुरी और क़ानूनी कागजाद होता है जो राज्य सरकार के तरफ से बनवाया जाता है, राज्य में निवास करने वाले सभी नागरिको का Birth Certificate होना जरुरी है. इसमें हमारी सारी जानकारी होती है जैसे माता का नाम ,पिता का नाम , जन्म तिथि इत्यादि.

Read more : Ration card apply : Download & status check, Jharkhand

Birth Certificate Jharkhand जरुरी डॉक्यूमेंट | Birth Certificate Jharkhand important documents

  • आवेदन करने वाला झारखंड राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए.
  • आवेदक करता के माता पिता का जन्म प्रमाण पत्र होना चाहिए.
  • मोबाइल नंबर होना चाहिए
  • आवेदन करने वाले का जन्म का स्थान ,समय तथा तारीख का सपथ पत्र होना चाहिए
  • यदि आवेदक करता स्कूल या collage में पढता है तो सर्टिफिकेट होना चाहिए
  • पासपोर्ट साइज फोटो
झारखण्ड जन्म प्रमाण पत्र के लाभ | Jharkhand Birth Certificate Benefits
  • वोटर लिस्ट में आपना नाम जुडवाने में जन्म प्रमाण पत्र की जरूत पड़ती है, इसके मदद से आप वोटर लिस्ट में आपना नाम जोडवा सकते है.
  • किसी स्कूल या collage में नामांकन लेने में
  • पासपोर्ट बनवाने में जाति प्रमाण पत्र , आय प्रमाण पत्र के साथ ही जन्म प्रमाण पत्र की जरूरत होती है.
  • राशन कार्ड में नाम दर्ज करवाने में मदद मिलती है.
  • पेन कार्ड बनवाने में
  • ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने में जरूरत पड़ती है.
Birth Certificate FAQ

1. जन्म प्रमाण पत्र कितने दिन में बन जाता है?

उत्तर – अगर बच्चे का जन्म अस्पताल या नर्सिंग होम में हुआ है तो संबंधित अस्पताल में मेडिकल इंचार्ज यह फार्म उपलब्ध कराता है। इस फार्म को जन्म के 21 दिन के भीतर जमा करवा दें। फार्म में भरी गई जानकारी के सत्यापन के बाद दो सप्ताह के भीतर सर्टिफिकेट जारी कर दिया जाता है।

2.भारत में जन्म प्रमाण पत्र कब अनिवार्य हो गया?

उत्तर – जरूरत की खबर में आज जानेंगे कि बर्थ सर्टिफिकेट क्यों जरूरी होता है, यह कैसे बनता है और इसके लिए किन डॉक्यूमेंट्स की जरूरत होती है। 1 अक्टूबर से जन्म और मृत्यु पंजीकरण (संशोधन) अधिनियम, 2023 लागू हो गया है। इस एक्ट के लागू होने के बाद आधार कार्ड से लेकर सभी जरूरी दस्तावेज बनवाने में बर्थ सर्टिफिकेट की भूमिका बढ़ गई है।

3. जन्म प्रमाण पत्र खो जाए तो क्या करें?

उत्तर – यदि आपका जन्म प्रमाण पत्र खो गया है, तो आपको चिंता करने की आवश्यकता नहीं है। आप आसानी से एक नया प्राप्त कर सकते हैं। आप इन तरीकों का पालन कर दोबारा नया प्राप्त कर सकते हैं- अपने जन्म स्थान के स्थानीय महत्वपूर्ण रिकॉर्ड कार्यालय से संपर्क करें। एक आवेदन पत्र भरें और आवश्यक दस्तावेज जमा करें।

4. मोबाइल से जन्म प्रमाण पत्र कैसे बनाएं?

उत्तर – मोबाइल से जन्म प्रमाण पत्र बनाने के लिए सबसे पहले आप सरकार की वेबसाइट crsorgi.gov.in को ओपन करें। इसके बाद General Public Signup के विकल्प को चुने। फिर इसमें अपने जानकारी जैसे मोबाइल नंबर , यूजर नेम , राज्य , जिला और गांव सभी जानकारी भरकर Register को चुने।


5. क्या भारत में दो जन्म प्रमाण पत्र होना अवैध है?

उत्तर – नहीं, एक व्यक्ति के पास दो जन्म प्रमाण पत्र नहीं हो सकते हैं। एक व्यक्ति के लिए दो जन्म प्रमाण पत्र रखना गैरकानूनी है। आपको भारतीय दंड संहिता के तहत दंडित किया जा सकता है, आपको सावधान रहने की जरूरत है और कृपया लोगों को इसके बारे में न बताएं।

6.कितने साल के बच्चे का आधार कार्ड बन सकता है?

उत्तर – इसका मतलब है कि आप एक नवजात शिशु का भी आधार कार्ड बनवा सकते हैं. 5 साल से कम उम्र के बच्‍चों का आधार कार्ड बनाने पर कोई शुल्‍क भी नहीं लिया जाता है. 5 साल से कम उम्र के बच्‍चे का आधार बनवाने के लिए आपको नजदीकी आधार केंद्र में जाकर पंजीकरण कराना होगा, जो पूरी तरह निशुल्‍क रहता है.

Our channels

और पढ़ें