July 15, 2024 5:12 am
Search
Close this search box.
Srinath University Adv (1)

भगवान के रूप में सामने आए भाजपा नेता नीरज सिंह ने बचाई जच्चा-बच्चा की जान

सोशल संवाद/जमशेदपुर: मानगो उलीडीह रोड नंबर 4 के निवासी सीता सिंह और उनका परिवार पूरे शहर में दर-दर भटक रहा था। कभी कोई सरकारी अस्पताल (मजीम), तो कभी किसी प्राइवेट अस्पताल के गेट से ही उन्हें भगा दिया गया। दरअसल, पीड़िता सीता सिंह सात महीने की गर्भवती थीं और जच्चा-बच्चा दोनों ही क्रिटिकल कंडीशन में थे। गरीबी और आर्थिक तंगी के चलते वे इलाज कराने में असमर्थ थे।

ऐसे में उन्हें भगवान के रूप में ऑटो चालक विनोद मिले। यह स्थिति देखकर विनोद ने पेशेंट और उनके परिवार को निशुल्क ऑटो में बैठाकर उमा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल जो कि पारडीह रोड स्तिथ पहुंचाया। वहां उन्होंने खुद ₹2000 जमा कर सीता सिंह को भर्ती कराया। साथ ही उन्होंने भाजपा नेता और समाजसेवी नीरज सिंह का नंबर भी परिवार से साझा किया।

नीरज सिंह से बात होते ही उन्होंने तत्काल प्रभाव से डॉक्टर से संपर्क किया और सीता सिंह के इलाज के लिए अस्पताल प्रबंधन से निवेदन किया। उन्होंने आर्थिक मदद भी की और अस्पताल प्रबंधन ने भी अपना अमूल्य योगदान दिया। इस संयुक्त प्रयास से एक गरीब परिवार का जच्चा-बच्चा दोनों सकुशल हैं और एक-दो दिन में ठीक होकर घर जा सकेंगे।

नीरज सिंह ने कहा कि ऐसा किसी गरीब के साथ न हो, इसके लिए शहर के अस्पतालों को दुरुस्त बनाने का काम करना चाहिए, चाहे वे सरकारी हों या गैर-सरकारी। दोनों की गुणवत्ता में कोई कमी नहीं रहनी चाहिए।

Print
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
जाने छठ पूजा से जुड़ी ये खास बाते विराट कोहली का जन्म एक मध्यमवर्गीय परिवार में 5 नवंबर 1988 को हुआ. बॉलीवुड की ये top 5 फेमस अभिनेत्रिया, जिन्होंने क्रिकेटर्स के साथ की शादी दिवाली पर पिछले 500 सालों में नहीं बना ऐसा दुर्लभ महासंयोग सोना खरीदने से पहले खुद पहचानें असली है या नकली धनतेरस में भूल कर भी न ख़रीदे ये वस्तुएं दिवाली पर रंगोली कहीं गलत तो नहीं बना रहे Ananya Panday करेगीं अपने से 13 साल बड़े Actor से शादी WhatsApp में आ रहे 5 कमाल के फीचर ये कपल को जमकर किया जा रहा ट्रोल…बच्ची जैसी दिखती है पत्नी