February 24, 2024 12:43 pm

क्या आपका भी लीवर है खराब …जाने पूरी जानकारी

सोशल संवाद / डेस्क :  लीवर शरीर के सबसे महत्वपूर्ण अंगों में से एक है. हेल्दी लीवर जीवन के लिए बहुत जरूरी होता है.आज-कल गलत खान-पान से लीवर में infection हो सकता है जिससे लीवर damage हो सकता है.

ये सब होने से लीवर में infection हो सकता है त्वचा और आंखों का पीला पड़न(पीलिया),बहुत जल्दी थकान महसूस करना,पेट में सूजन के साथ दर्द रहना,पैरों के साथ-साथ पूरे शरीर में सूजन,लगातार चर्म रोग- दाद, खाज, खुजली,पेशाब का रंग गहरा होना,भूख में लगातार कमी होना और सूखी उल्टी भी हो सकती.  जो कि भोजन के पाचन से लेकर शरीर से विषाक्त पदार्थों को भी दूर करता है.जानिए क्या है लिवर से जुड़ी बीमारी के गंभीर लक्षण और कैसे करें इससे बचाव.

लक्षण जो बताते हैं लिवर से जुड़ी समस्या (Symptoms Of Liver Infection)

लिवर में समस्या आने पर कई बार उसे खुद भी ठीक किया जा सकता है लेकिन यदि उपाय सही और सटीक ना हो तो ये आपको लिवर सिरोसिस तक ले जा सकता है जो लिवर से जुड़ी सबसे खतरनाक बीमारी है। लिवर से जुड़ी समस्याओं में हमेशा ऐसे लक्षण देखने को नहीं मिलते हैं जिन पर जल्दी से ध्यान जाए .  कई बार लक्षण इतने सामान्य होते हैं कि व्यक्ति न चाहते हुए भी इन्हें नजरअंदाज कर जाता है, लेकिन आज हम आपको बताने जा रहे हैं ऐसे ही कुछ गंभीर लक्षणों के बारे में जिन्हें देखने के बाद आपको नजरअंदाज नहीं करना चाहिए.

मजबूत लीवर के लिए 5 खाद्य पदार्थ 5 फ़ूड आइटम्स फॉर कर रे:-

लहसुन–

लिवर की समस्या से जूझ रहे लोगों को नियमित रूप से लहसुन का सेवन करना चाहिए. लहसुन में मौजूद सेलेनियम और एल्लीसिन तत्व लिवर को साफ रखने में काफी मदद करते हैं.साथ ही लहसुन खाने से लिवर में मौजूद एंजाइम एक्टिव हो जाते हैं.जिससे लिवर स्ट्रांग होता है.

नींबू–

नींबू का सेवन नियमित रूप से करने पर लिवर की सेहत दुरुस्त रहती है. नींबू में पाया जाने वाला डी-लिमोनेने नामक तत्व लिवर सेल्स को एक्टिव करता है जिससे लिवर पूरी तरह क्लीन रहता है.रोज 1 गिलास नींबू पानी पीने से लिवर तंदुरुस्त रहता है.

हल्दी

लिवर संबंधी रोगों की रोकथाम के लिए हल्दी का प्रयोग भी किया जाता है. इसके लिए गोल्डन मिल्क यानी हल्दी वाला दूध सबसे अच्छा होता है। हल्दी में मौजूद करक्यूमिन नामक तत्व फैटी लिवर जैसी समस्या से जल्द राहत दिलाता है.

मुलेठी

मुलेठी का प्रयोग लिवर के लिए बेहद कारगर माना जाता है, मुलेठी में एंटीऑक्सीडेंट और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण भरपूर पाए जाते हैं जो लिवर की सेहत का ख्याल रखते हैं.यदि आप फैटी लिवर की समस्या से जूझ रहे हैं तो मुलेठी का अर्क लें जल्द आराम मिलेगा.

ग्रीन-टी

National Center for Biotechnology Information में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार फैटी लिवर की समस्या को दूर करने में ग्रीन-टी काफी लाभकारी है.यदि आप रोजाना 1 ग्रीन-टी पीते हैं तो इससे फैट बर्न होता है साथ ही लिवर डिटॉक्स होता है.

Our channels

और पढ़ें