April 18, 2024 8:21 pm
Srinath University Adv (1)

जमशेदपुर एवं समीपवर्ती क्षेत्रों में चांडिल डैम से पेयजल की होगी आपूर्ति

Xavier Public School april

सोशल संवाद/ जमशेदपुर: जमशेदपुर एवं समीपवर्ती इलाकों में पीने के लिए शुद्ध पानी की आपूर्ति सीधे चांडिल डैम से होगी। इस बारे में जल संसाधन विभाग के माननीय मंत्री बसंत सोरेन स्वयं जमशेदपुर जायेंगे और टाटा स्टील सहित अन्य सक्षम प्राधिकारों के साथ बैठक कर आगे की कार्रवाई करेंगे। यह आश्वासन जल संसाधन विभाग, झारखण्ड सरकार के मंत्री बसंत सोरेन ने विधायक सरयू राय के अल्पसूचित प्रश्न का उत्तर देने के क्रम में सदन में दिया।

प्रश्न पूछते हुए सरयू राय ने सदन को बताया कि राष्ट्रीय जल नीति-1987, 2002 और 2012 के अनुसार किसी भी जलाशय के पानी का उपयोग करने में पेयजल की पहली प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि फिलहाल चांडिल डैम से ही पानी नीचे स्वर्णरेखा नदी में आता है और जमशेदपुर, मानगो, मोहरदा आदि पेयजलापूर्ति योजनाओं से नदी का पानी खींचकर उसे शुद्ध करके पीने के लिए दिया जाता है।

परंतु पिछले कुछ दिनों से स्वर्णरेखा, खरकई नदियों में औद्योगिक एवं नगरीय प्रदूषण बढ़ जाने से इन्हें साफ करने में काफी दिक्कतें आ रही हैं और खर्च बढ़ रहा है। काफी कोशिश करने के बावजूद मोहरदा पेयजलापूर्ति से पीने लायक साफ पानी लोगों को नहीं मिल रहा है। कभी-कभी नदी में प्रदूषण इतना बढ़ जाता है कि पानी साफ करने वाला संयंत्र बंद करना पड़ता है।

इसलिए चांडिल डैम से सीधे डिमना लेक में पानी डाल दिया जाय और वहाँ से मानगो होकर पहले से बिछे हुए पाईपलाईन से वह पानी टाटा स्टील के जल शुद्धिकरण संयंत्र तक आ जाएगा। यदि उस पाईपलाईन को मोहरदा तक बढ़ा दिया जाय तो जमशेदपुर के लोगों के साथ ही बिरसानगर, बारीडीह, बागुनहातु, बागुननगर के लोगों को पीने का शुद्ध पानी मिलेगा और नदी के प्रदूषित जल को साफ कर पीने लायक बनाने में होने वाले खर्च में बचत होगी। राय ने कहा कि चांडिल डैम के पानी से जमशेदपुर, मानगो, जुगसलाई, बागबेड़ा, परसुडीह आदि इलाकों में भी स्वच्छ पेयजल की आपूर्ति हो सकती है।

विधायक सरयू राय के प्रश्न का उत्तर देते हुए मंत्री बसंत सोरेन ने कहा कि सतनाला डैम से जलापूर्ति करने में कोई दिक्कत नहीं है।परन्तु डिमना लेक पर टाटा स्टील का स्वामित्व है, इसलिए इस योजना को मूर्तरूप देने के लिए एक बार टाटा स्टील के साथ बातचीत करना आवश्यक है। इसके लिए वे स्वयं जमशेदपुर जायेंगे और एक उच्चस्तरीय बैठक बुलाकर मामले का समाधान करेंगे। प्रश्नोत्तर की प्रति संलग्न है।

Print
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
जाने छठ पूजा से जुड़ी ये खास बाते विराट कोहली का जन्म एक मध्यमवर्गीय परिवार में 5 नवंबर 1988 को हुआ. बॉलीवुड की ये top 5 फेमस अभिनेत्रिया, जिन्होंने क्रिकेटर्स के साथ की शादी दिवाली पर पिछले 500 सालों में नहीं बना ऐसा दुर्लभ महासंयोग सोना खरीदने से पहले खुद पहचानें असली है या नकली धनतेरस में भूल कर भी न ख़रीदे ये वस्तुएं दिवाली पर रंगोली कहीं गलत तो नहीं बना रहे Ananya Panday करेगीं अपने से 13 साल बड़े Actor से शादी WhatsApp में आ रहे 5 कमाल के फीचर ये कपल को जमकर किया जा रहा ट्रोल…बच्ची जैसी दिखती है पत्नी