July 18, 2024 9:30 am
Search
Close this search box.

नीरज सिंह के टैंकर से मानगो में एक दिन में 1 लाख लीटर पानी का वितरण, लोगों को मिली राहत

सोशल संवाद/जमशेदपुर : पश्चिम जमशेदपुर के सभी इलाकों में पानी की किल्लत की समस्या चिंताजनक है। शहर के एक बड़े आबादी वाले क्षेत्र में पिछले दशकों से पानी की समस्या गंभीर है, लेकिन इसे हल करने के लिए पर्याप्त कदम नहीं उठाए गए हैं। पिछले 48 घंटों से तापमान 45 डिग्री सेल्सियस से अधिक है और मानगो के अधिकांश क्षेत्रों में पेयजल आपूर्ति लगभग ठप है, जिससे स्थानीय निवासियों को पेयजल के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है। लोग आरोप लगा रहे हैं कि पेयजलापूर्ति विभाग अपनी जिम्मेदारी निभाने में असफल हो रहा है, जिससे विभाग की कार्य प्रणाली को लेकर व्यापक असंतोष फैल रहा है। ऐसी स्थिति में, पानी का टैंकर ही एकमात्र सहारा बनकर उभरा है।

टैंकर के पानी के लिए लगातार आ रहे हैं फोन कॉल्स

शहर के इलाकों जैसे मानगो, सोनारी और कदमा की कई बस्तियों से लगातार फोन कॉल्स आ रहे हैं, जिनमें लोग अपनी पानी की समस्या बताते हुए पानी की आपूर्ति के लिए अनुरोध कर रहे हैं। ऐसे में भाजपा नेता नीरज सिंह का पानी का टैंकर लोगों के लिए वरदान साबित हो रहा है, जो गली-गली जाकर घरों तक पानी पहुंचा रहा है और लोगों की प्यास बुझाकर उनकी सहायता कर रहा है।

एक दिन में 1 लाख लीटर पानी का वितरण

नीरज सिंह के नेतृत्व में हर दिन सुबह और शाम टैंकरों के माध्यम से लगभग 1 लाख लीटर पानी का वितरण किया जा रहा है। यह एक बड़ी जिम्मेदारी है, जो पानी की महत्वपूर्णता को समझते हुए निभाई जा रही है। इससे न केवल पानी के संरक्षण में योगदान किया जा सकता है, बल्कि लोगों को पानी की महत्ता के प्रति जागरूक भी किया जा सकता है। पानी की कमी के कारण लोग अपने रोजमर्रा के काम नहीं कर पा रहे हैं।

निशुल्क घरों तक पानी पहुंचा रहे हैं नीरज सिंह

नीरज सिंह का मानना है कि किसी को पानी पिलाना सबसे बड़ा धर्म है। इसी सोच के साथ वे रोज़ सुबह-शाम पानी के टैंकर मानगो, सोनारी और कदमा के इलाकों में निशुल्क सेवा के रूप में भेज रहे हैं। भाजपा नेता नीरज सिंह का कहना है कि उनका लगातार प्रयास रहता है कि शहर का कोई भी इलाका पानी से वंचित न रहे, विशेषकर इस गर्मी के मौसम में सभी को पर्याप्त पानी मिलना चाहिए।

चार महीनों से लगातार जारी है पानी का वितरण

पानी की समस्या को देखते हुए शहर के कई भागों में टैंकर ही मुख्य सहारा बन गया है। भूजल के स्रोत समाप्त हो चुके हैं, और सरकारी नलों में पानी नहीं आ रहा है। ऐसे में, नीरज सिंह के प्रयासों से पानी की आपूर्ति पूरे साल जारी रहती है, लेकिन गर्मी के दिनों में पानी की किल्लत को देखते हुए आपूर्ति बढ़ा दी जाती है। नीरज सिंह के इन प्रयासों से पानी की गंभीर समस्या से जूझ रहे लोगों को राहत मिली है और उनकी इस सेवा को व्यापक सराहना मिल रही है।

Print
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
जाने छठ पूजा से जुड़ी ये खास बाते विराट कोहली का जन्म एक मध्यमवर्गीय परिवार में 5 नवंबर 1988 को हुआ. बॉलीवुड की ये top 5 फेमस अभिनेत्रिया, जिन्होंने क्रिकेटर्स के साथ की शादी दिवाली पर पिछले 500 सालों में नहीं बना ऐसा दुर्लभ महासंयोग सोना खरीदने से पहले खुद पहचानें असली है या नकली धनतेरस में भूल कर भी न ख़रीदे ये वस्तुएं दिवाली पर रंगोली कहीं गलत तो नहीं बना रहे Ananya Panday करेगीं अपने से 13 साल बड़े Actor से शादी WhatsApp में आ रहे 5 कमाल के फीचर ये कपल को जमकर किया जा रहा ट्रोल…बच्ची जैसी दिखती है पत्नी