July 12, 2024 5:21 pm
Search
Close this search box.
Srinath University Adv (1)

पूर्व प्रधनमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती पर भाजपा जिला अध्यक्ष गुंजन यादव उपवास पर बैठने की SDO को पत्र सौंपकर मांगी अनुमति

सोशल संवाद/डेस्क : झारखंड राज्य के जनक, पूर्व प्रधानमंत्री एवं भारत रत्न से सम्‍मानित अटल बिहारी वाजपेयी एवं झारखंड आंदोलन के अग्रणीय नायक, शहीद निर्मल महतो के जयंती के अवसर पर 25 दिसंबर को भाजपा जमशेदपुर महानगर अध्यक्ष गुंजन यादव जमशेदपुर के कदमा उलियान स्थित शहीद निर्मल महतो के समाधि स्थल के समक्ष एकदिवसीय शांतिपूर्ण उपवास पर बैठेंगे। शुक्रवार को महानगर अध्यक्ष गुंजन यादव ने जिला पदाधिकारी एवं मोर्चा जिलाध्यक्षों के संग अनुमंडल पदाधिकारी के कार्यालय जाकर उन्हें इस आशय हेतु पत्र देकर अनुमति मांगी है।

पत्र के माध्यम से बताया गया कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने दिनांक 8 अगस्त, 2019 को शहीद आंदोलनकारी निर्मल महतो की शहादत दिवस पर लौहनगरी जमशेदपुर में उनके पवित्र समाधि स्थल को साक्षी मानकर युवाओं से 1 वर्ष में 5 लाख नौकरी देने का वादा किया था। नौकरी ना देने पर राजनीति से सन्यास की घोषणा उन्होंने भरी सभा को संबोधित करते हुए कही थी। पत्र में बताया गया कि आज मुख्यमंत्री बनने के उपरांत 4 साल बीतने को हैं, लेकिन मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने युवाओं, महिलाओं, पारा शिक्षक, सहायक पुलिसकर्मियों, किसानों से वादाखिलाफी करने के साथ शहीद निर्मल महतो की शहादत का अपमान कर अबतक युवाओं को सिर्फ ठगने का कार्य किया है।

वहीं, भाजपा जिलाध्यक्ष गुंजन यादव ने इस संबंध में बताया कि वे एक दिवसीय शांतिपूर्ण सांकेतिक उपवास कार्यक्रम के तहत मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को उनके किये वादे को स्मरण कराने की कोशिश करेंगे। जिससे कि वे प्रदेश के हताश एवं निराश हो चुके युवाओं के हित में अविलंब निर्णय लेकर नियुक्तियों का रास्ता साफ कर सकें। गुंजन यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की झूठी कसम से जीवनभर युवाओं के हितों के लिए आंदोलनरत रहने वाले धरती पुत्र शहीद निर्मल महतो दादा की पुण्यात्मा भी आज ऐसी दुर्दशा पर कराह रही होगी। उन्होंने विश्वास जताया कि धालभूम अनुमंडल पदाधिकारी उनके इस निवेदन पर संज्ञान लेकर उन्हें शांतिपूर्ण सांकेतिक उपवास हेतु अनुमति अवश्य प्रदान करेंगे। इस दौरान सुधांशु ओझा, संजीव सिन्हा, बबुआ सिंह, राकेश सिंह, मंजीत सिंह, पप्पू सिंह, नीलू मछुआ, राजीव सिंह, बिनोद कुमार सिंह, अमित अग्रवाल, अजीत कालिंदी व अन्य मौजूद रहे।

Print
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
जाने छठ पूजा से जुड़ी ये खास बाते विराट कोहली का जन्म एक मध्यमवर्गीय परिवार में 5 नवंबर 1988 को हुआ. बॉलीवुड की ये top 5 फेमस अभिनेत्रिया, जिन्होंने क्रिकेटर्स के साथ की शादी दिवाली पर पिछले 500 सालों में नहीं बना ऐसा दुर्लभ महासंयोग सोना खरीदने से पहले खुद पहचानें असली है या नकली धनतेरस में भूल कर भी न ख़रीदे ये वस्तुएं दिवाली पर रंगोली कहीं गलत तो नहीं बना रहे Ananya Panday करेगीं अपने से 13 साल बड़े Actor से शादी WhatsApp में आ रहे 5 कमाल के फीचर ये कपल को जमकर किया जा रहा ट्रोल…बच्ची जैसी दिखती है पत्नी