February 23, 2024 7:00 am

सिंहभूम चैम्बर के शिकायत पर रेलवे ने राहगीरों के लिये निर्मित मार्ग को अतिक्रमण मुक्त कर आमजनता के लिये खोला गया

सोशल संवाद/डेस्क : सिंहभूम चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री ने टाटानगर रेलवे स्टेशन के अंदर पैदल जाने वाले राहगीरों/यात्रियों के लिये बनाई गये मार्ग को रेलवे के द्वारा कोविड काल में बंद कर दिये जाने के बाद दोबारा नहीं खोलने और विभिन्न लोगों के द्वारा अतिक्रमण कर पहुंचपथ को अवरूद्ध कर दिये जाने एवं इससे आम जनता एवं रेलवे यात्रियों को हो रही परेशानी को देखते हुये प्रमंडलीय रेल प्रबंधक, चक्रधरपुर, दक्षिण पूर्व रेलवे को पत्र लिखकर शिकायत करते हुये उनका ध्यानाकृष्ट कराने के पश्चात् टाटानगर रेलवे के द्वारा चैम्बर के शिकायत पर संज्ञान लेते हुये इसे अतिक्रमण मुक्त कराते हुये आम जनता के खोल दिया गया है।  यह जानकारी अध्यक्ष विजय आनंद मूनका, मानद महासचिव मानव केडिया तथा उपाध्यक्ष जनसंपर्क एवं कल्याण अभिषेक अग्रवाल गोल्डी ने संयुक्त रूप से दी।

यह भी पढ़े : भाजपा जमशेदपुर के सदस्य आलोक बाजपेई के नेतृत्व में झारखंड प्रदेश अध्यक्ष आदरणीय बाबूलाल मरांडी से मुलाकात किया

अध्यक्ष एवं महासचिव ने बताया कि टाटानगर रेलवे स्टेशन में यात्रियों की सुविधा के लिये रेलवे द्वारा मुख्य सड़क से वाहन से उतरकर स्टेशन तक जाने या स्टेशन से निकलकर मुख्य सड़क पर आने के लिये पहुंचपथ का निर्माण किया था।  इससे रेल यात्रियों को काफी सुविधा भी हो रही थी। लेकिन कोविड काल में इस पथ को रेलवे द्वारा बंद कर दिया गया था और दोबारा शुरू नहीं किया गया।  उसके बाद इस रास्ते पर विभिन्न लोगों के द्वारा अतिक्रमण कर इसे अवरूद्ध कर दिया है।  जिससे रेल यात्रियों एवं राहगीरों को स्टेशन तक अपने सामानों को लेकर पहुंचने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। और शहर में बाहर से आये आगंतुकों की नजर में टाटानगर की बहुत खराब छवि बन रही थी। 

रेलवे द्वारा यात्रियों और राहगीरों को सुविधा प्रदान करने के उद्देश्य से बनाये गये इस पहुंचपथ के बंद होने से इसका उद्देश्य भी पूरा नहीं हो पा रहा है।  इस अतिक्रमण को हटाने के लिये स्थानीय अधिकारियों द्वारा कोई पहल भी नहीं की जा रही थी।  इसे देखते हुये चैम्बर ने डीआरएम चक्रधरपुर को पत्र लिखकर शिकायत करते हुये इस ओर उनका ध्यानाकृष्ट कराया था और इसके बंद होने से आम जनता को होने वाली परेशानियों से उनको अवगत कराया था।  रेलवे ने चैम्बर की शिकायत पर संज्ञान लेते हुये इसे अतिक्रमण मुक्त कराते हुये आम जनता के लिये खोल दिया है।  चैम्बर ने रेलवे के इस पहल पर उनका धन्यवाद किया है।

उपाध्यक्ष जनसंपर्क एवं कल्याण अभिषेक अग्रवाल गोल्डी एवं सचिव, जनसंपर्क एवं कल्याण सुरेश शर्मा लिपु ने कहा कि चैम्बर हमेशा से व्यापारीहित के साथ-साथ जमशेदपुर की आम जनता के हितों का भी ख्याल रखते हुये कार्य करती है और आगे भी अपने इस जनहित के कार्य को जारी रखेगी। सिंहभूम चैम्बर के अन्य पदाधिकारियों उपाध्यक्ष अनिल मोदी, अधिवक्ता राजीव अग्रवाल, पुनीत कांवटिया, सचिव भरत मकानी, अधिवक्ता अंशुल रिंगसिया, विनोद शर्मा एवं कोषाध्यक्ष सीए अनिल रिंगसिया, ने भी रेलवे के द्वारा इसपर त्वरित कदम उठाते हुये इसे जनता को पुनः समर्पित करने के लिये उनका धन्यवाद किया है।

Our channels

और पढ़ें