May 19, 2024 3:40 am
Search
Close this search box.
Srinath University Adv (1)

रायबरेली में बोले राहुल- संविधान के बिना देश में जनता की सरकार नहीं, अडानी-अंबानी की होगी सरकार

Xavier Public School april

सोशल संवाद/ दिल्ली( रिपोर्ट – सिद्धार्थ प्रकाश ) कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और रायबरेली से पार्टी उम्मीदवार राहुल गांधी सोमवार को प्रचार के लिए रायबरेली पहुंचे। इस दौरान उन्होंने सेवा संकल्प सभाओं को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को विभिन्न मुद्दों पर जमकर घेरा।विशाल जनसभाओं में राहुल गांधी के साथ कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी, संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल, उत्तर प्रदेश कांग्रेस प्रभारी अविनाश पांडे, छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल समेत इंडिया गठबंधन के अन्य नेता मौजूद रहे।   

सभाओं में उमड़ी भारी भीड़ के बीच अपने संबोधन में राहुल गांधी ने कहा कि भाजपा और आरएसएस के लोग संविधान को खत्म करने में लगे हैं। भाजपा नेता कहते हैं कि चुनाव जीतने पर वह संविधान को खत्म कर देंगे। देश के हर वर्ग को जो भी मिला है, वह संविधान से मिला है। संविधान के बिना देश में जनता की सरकार नहीं होगी, अडानी-अंबानी की सरकार होगी। अगर संविधान खत्म हो गया तो जनता को पब्लिक सेक्टर में रोजगार नहीं मिलेगा, आरक्षण खत्म हो जाएगा। देश में गरीबों के लिए सभी रास्ते बंद हो जाएंगे।राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले 400 पार की बात करते थे, अब ये 150 पार की बात भी नहीं कर रहे हैं। चार जून को नरेंद्र मोदी इस देश के प्रधानमंत्री नहीं बनेंगे।जनता के नारों के बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि रायबरेली के साथ हमारा रिश्ता 100 वर्ष पुराना है। हमारे परदादा जवाहरलाल नेहरू जी ने अपना राजनीतिक जीवन यहीं से शुरू किया था। उनकी दो माताओं इंदिरा गांधी और सोनिया गांधी की यह कर्मभूमि रही। इसलिए वह रायबेरली से चुनाव लड़ने आए हैं। 

राहुल गांधी ने कांग्रेस द्वारा रायबरेली के लिए किए गए विकास कार्य भी गिनाए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने रायबरेली में जिला अस्पताल, लालगंज रेल कोच फैक्ट्री, एनटीपीसी ऊंचाहार, एम्स, स्पाइस पार्क,  एफडीडीआई, हाईवे बनाए। इन जैसे तमाम काम कांग्रेस ने किए, लेकिन मीडिया ये सब कभी नहीं दिखाएगा। उन्होंने यह आरोप भी लगाया कि अमेठी में वे एके-47 राइफल बनाने की फैक्ट्री लेकर आए थे। लेकिन अभी तक इसे शुरू नहीं किया गया है। क्योंकि नरेंद्र मोदी ये राइफल बनाने का कॉन्ट्रैक्ट अडानी को देना चाहते हैं।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी का वेतन करीब डेढ़ लाख रुपये है। डेढ़ लाख रुपये का वेतन है तो वे दिन में एक लाख का सूट कैसे पहनते हैं। वे दिन में कम से कम तीन सूट बदलते हैं।आखिर मोदी के लिए लाखों के सूट-बूट कौन खरीद रहा है।राहुल गांधी ने कहा कि अमित शाह की मीटिंग में कल एक पत्रकार को भाजपा के लोगों ने पीटा। पत्रकार ने पूछा था कि भीड़ को सभा में आने के लिए कितना पैसा मिला था। यानी वो एक ऐसा पत्रकार था, जो इनसे डरा नहीं और अपना सवाल पूछा, लेकिन उसकी पिटाई की गई। ये देश के हालात हैं।राहुल गांधी ने कांग्रेस घोषणा पत्र में दी गई गारंटियां गिनाईं। उन्होंने कहा कि केंद्र में कांग्रेस की सरकार बनने पर युवाओं को अप्रेंटिसशिप का अधिकार दिया जाएगा। इसमें युवाओं को प्रशिक्षण मिलेगा और एक लाख रुपये दिए जाएंगे। केंद्र में खाली पड़े 30 लाख सरकारी पदों को भरा जाएगा। अग्निवीर योजना रद्द की जाएगी। पब्लिक सेक्टर में ठेकेदारी प्रथा खत्म की जाएगी।

उन्होंने कहा कि प्रत्येक गरीब परिवार की एक महिला को हर महीने साढ़े आठ हजार रूपये दिए जाएंगे। इस तरह महिलाओं को एक लाख रुपये सालाना मिलेंगे। इंडिया गठबंधन की सरकार बनने के बाद एक जुलाई 2024 को सुबह-सुबह गरीब परिवार की महिलाएं जब अपना अकाउंट चेक करेंगी तो उसमें 8500 रुपये आ चुके होंगे। इंडिया गठबंधन की सरकार में ऐसा हर महीने की पहली तारीख को होगा। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि किसानों के लिए नरेंद्र मोदी काले कानून लाए। देश के किसान सड़क पर आ गए, सैकड़ों किसान शहीद हुए। केंद्र में इंडिया गठबंधन की सरकार बनने पर किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य की कानूनी गारंटी दी जाएगी। किसानों की कर्ज माफी की जाएगी। फसल नुकसान पर 30 दिन के अंदर सीधे खाते में मुआवज़े का पैसा ट्रांसफर होगा। मनरेगा मजदूरों को 400 रुपये न्यूनतम दैनिक मजदूरी दी जाएगी। 

वहीं अपने संबोधन में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा कि राहुल गांधी कन्याकुमारी से कश्मीर तक 4,000 किलोमीटर पैदल चलने वाले एकमात्र नेता हैं। फिर इन्होंने मणिपुर से महाराष्ट्र तक की यात्रा की। इन यात्राओं का मकसद देश को संदेश देना था कि हम सभी एक हैं। देश का विकास तभी होगा, जब देश की एकता बनी रहेगी।प्रियंका गांधी ने कहा राहुल गांधी को बचपन से ही अन्याय बर्दाश्त नहीं हुआ। उन्होंने जीवन भर न्याय की लड़ाई लड़ी, कभी पीछे नहीं हटे। ऐसा निडर, साहसी और दरियादिल इंसान देश की राजनीति में नहीं मिलेगा। उन्होंने सत्य का पथ पकड़ा है और हमेशा वे इस पथ पर चलेंगे। वे रायबरेली की जनता के साथ कंधे से कंधा मिलकर लड़ेंगे और विकास कराएंगे।

Print
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
जाने छठ पूजा से जुड़ी ये खास बाते विराट कोहली का जन्म एक मध्यमवर्गीय परिवार में 5 नवंबर 1988 को हुआ. बॉलीवुड की ये top 5 फेमस अभिनेत्रिया, जिन्होंने क्रिकेटर्स के साथ की शादी दिवाली पर पिछले 500 सालों में नहीं बना ऐसा दुर्लभ महासंयोग सोना खरीदने से पहले खुद पहचानें असली है या नकली धनतेरस में भूल कर भी न ख़रीदे ये वस्तुएं दिवाली पर रंगोली कहीं गलत तो नहीं बना रहे Ananya Panday करेगीं अपने से 13 साल बड़े Actor से शादी WhatsApp में आ रहे 5 कमाल के फीचर ये कपल को जमकर किया जा रहा ट्रोल…बच्ची जैसी दिखती है पत्नी