March 4, 2024 4:47 pm

श्री मल्लिकार्जुन खड़गे समराला, पंजाब में।

Advertise

सोशल संवाद/दिल्ली (रिपोर्ट – सिद्धार्थ प्रकाश ) :एक तय तरीक़े से किसानों को ख़त्म करने की साज़िश रची जा रही है। देश की खेती को चंद कारपोरेट्स के हवाले करने का प्लान तैयार था। लेकिन आप लोगों के आंदोलन ने किसानी को बचा लिया। आज़ादी के बाद पहली बार, हर किसान पर ₹25,000 प्रति हेक्टेयर टैक्स लगाया। ‘PM फसल बीमा योजना’ को Private Insurance Company की मुनाफा योजना’ बनाया। 2016 से 2022 के बीच बीमा कंपनियों ने ₹40,000 करोड़ कमाए।

अंग्रेजों के जमाने में आरएसएस बीजेपी के लोगों ने उनकी मदद की। गांधी के भारत छोड़ो आंदोलन में भी अंग्रेजों की मदद की। वो रोज़ उठकर कांग्रेस और राहुल गांधी को गालियाँ देते हैं। जो व्यक्ति पदयात्रा निकालता है उसको भला बूरा कहते हैं। क्यों ? उन्होंने सरकार में कोई पद तो नहीं लिया! मोदी जी सिर्फ़ अमीरों के लिए काम करते हैं। मालदारों के लिए काम करते हैं। इसलिए ग़रीब और ग़रीब , अमीर और अमीर बन रहा है। 30 लाख सरकारी पद ख़ाली पड़े हैं। इसमें से 15 लाख पद दलित, आदिवासी, अन्य पिछड़े वर्ग के लोगों को मिल जाते इसलिए वो ये भर्ती नहीं कर रहे ।

Our channels

और पढ़ें