February 27, 2024 3:39 pm

75 करोड़ टेलीकॉम ग्राहक खतरे में, आधार से लेकर फोन नंबर तक हो रहा लीक

सोशल संवाद/डेस्क : जियो, एयरटेल समेत कुल 75 करोड़ टेलीकॉम ग्राहकों पर बड़ा खतरा मंडरा रहा है। डार्क वेब पर 75 करोड़ ग्राहकों का बेहद संवेदनशील डेटा मामूली कीमत में बिक रहा है। इसमें आधार नंबर और फोन नंबर समेत कई पर्सनल डिटेल शामिल हैं, जिसके जरिए हैकर किसी भी गंभार साइबर फ्रॉड को अंजाम दे सकते हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक, मामले की गंभीरता को देखते हुए भारत में दूरसंचार विभाग (DoT) ने 750 मिलियन (75 करोड़) से अधिक ग्राहकों के कथित डेटा ब्रीच के बाद देश के सभी टेलीकॉम ऑपरेटरों को सिक्योरिटी ऑडिट करने के लिए कहा है।

दरअसल, यह मुद्दा भारत स्थित साइबर सुरक्षा फर्म CloudSEK द्वारा रिपोर्ट किया गया था, जिसमें दावा किया गया है कि हैकर्स डार्क वेब पर 1.8 टेराबाइट डेटा बेच रहे हैं, जिसमें देश में टेलीकॉम यूजर्स की जानकारी शामिल है। डेटा में सामान्य यूजर्स के बारे में संवेदनशील जानकारी जैसे नाम, मोबाइल नंबर, एड्रेस और यहां तक कि आधार डिटेल भी शामिल हैं।

CloudSEK का कहना है कि यह ब्रीचइंडिविजुअल्स और ऑर्गेनाइजेशन के लिए एक बड़ा साइबर अटैक का खतरा है। द इकोनॉमिक टाइम्स के मुताबिक, देश की टेलीकॉम कंपनियों ने DoT को सूचित किया है कि लीक हुई जानकारी विभिन्न टेलीकॉम ग्राहकों के पुराने डेटा सेट का कलेक्शन है। कंपनियों का यह भी कहना है कि यह ब्रीच टेलीकॉम ऑपरेटरों के बुनियादी ढांचे में किसी तकनीकी कमजोरी के कारण नहीं हुआ है।

Our channels

और पढ़ें