February 23, 2024 5:54 am

राष्ट्रीय ग्राहक दिवस के दिन प्रांत बैठक में स्वर्ण जयंती वर्ष के आयोजन समिति की घोषणा

सोशल संवाद / जमशेदपुर : ग्राहक के हित और जागरूकता के विषय में कार्य करने वाली संस्था अखिल भारतीय ग्राहक पंचायत का 50 वर्ष पूर्ण होने पर पूरे देश मे स्वर्ण जयंती समारोह समिति बनाकर स्वर्ण जयंती वर्ष मनाया जा रहा है। इस उल्लेखनीय वर्ष  के लिए आयोजन समिति के गठन से संबंधित महत्वपूर्ण प्रान्त बैठक का आयोजन दिनांक  24 दिसंबर 2023 को होटल मेरिडियन सभागार ,स्टेशन रोड में आयोजित किया गया। यह बैठक तीन सत्र में सम्पन्न हुई।

बैठक का शुभारंभ माँं भारती और स्वामी विवेकानंद के चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलित कर किया गया। इस अवसर पर आमंत्रित अतिथि रही पद्यश्री छुटनी महतो , पद्यश्री जानुम सिंह सोय, समाजसेवी डॉ कविता परमार , डाॅ बिनोद एक्का, शिक्षाविद ऐंजिल उपाध्याय।

विषय प्रवेश कराते हुए संगठन मंत्री शिवाजी क्रांति ने कहा कि सामाजिक समता हेतु ग्राहकीय जागरूकता एक अनिवार्य विषय है जिस पर अखिल भारतीय ग्राहक पंचायत कार्य करता है और पचास वर्षों की सफल यात्रा के बाद संगठन इस समय अपना स्वर्ण जयंती वर्ष मना रहा है। वृत्त निवेदन करते हुए प्रांत सचिव डॉक्टर कल्याणी ने जून 2022 से अब तक के कार्यों का ब्यौरा प्रस्तुत किया।

यह भी पढ़े : वीर बाल दिवस पर साकची गुरद्वारे में सजेगा कीर्तन दरबार

डॉक्टर विनोद एक्का ने कहा कि झारखंड आंदोलन की भूमि है पर दुखद है कि जनता सदैव शोषण का शिकार रही है। ऐसे परिप्रेक्ष्य में ग्राहक पंचायत जैसी संस्था की अनिवार्यता सर्वोपरि है ।

डॉक्टर कविता परमार ने कहा कि महिलाओं को आत्मसंयम और परिपक्व सोच रखना होगा ताकि वह दिखावे की संस्कृति से दूर रहें ।

द्वितीय सत्र में प्रांत की उपाध्यक्ष बिमला हेंब्रम जी ने स्वर्ण जयंती वर्ष आयोजन समिति की घोषणा की।सभी सम्मानित सदस्यों को उत्तरीय भेंटकर उनका सम्मान किया गया। पद्मश्री छुटनी महतो को स्वर्ण जयंती अभियान समिति का अध्यक्ष बनाया गया ।

तृतीय सत्र में डॉक्टर रजनी रंजन ने पर्यावरण संरक्षण पर बल देते हुए कहा कि पंचमहाभूत महाप्राण को अपने जीवन में अंगीकार करना होगा। ऑनलाइन खरीदारी में समझदारी विषय पर विचार प्रकट करते हुए ऐंजल उपाध्याय जी ने कहा कि स्वदेशीकरण को अपनाने की जरूरत है ।

स्वर्ण जयंती वर्ष आयोजन समिति की अध्यक्ष पद्मश्री छुटनी महतो जी ने संगठन के कार्यों की सराहना करते हुए इस संगठन से जुड़ने पर हर्ष व्यक्त किया।साथ ही उन्होंने ग्रामीण महिलाओं के बीच भी गोष्ठी और विचार-विमर्श करने पर बल दिया।

प्रथम सत्र का संचालन अधिवक्ता रवि प्रकाश सिंह, द्वितीय सत्र का डॉक्टर कल्याणी कबीर और तृतीय सत्र का डॉक्टर अनीता शर्मा ने किया। धन्यवाद ज्ञापन प्रांत सह सचिव श्री अरविंद राणा जी ने दिया। इस बैठक में पूर्वी सिंहभूम अध्यक्ष श्री पप्पू सिंह, उपाध्यक्ष श्रीमती कृष्णा सिन्हा समेत सुश्री डॉली परिहार, श्रीमती सरिता सिंह,श्रीमती सुकृति बनर्जी, श्रीमती सुष्मिता की उपस्थिति रही।

व्यवस्था पक्ष में कोष आयाम प्रमुख चंद्रनाथ बनर्जी, अंकेश भुईंया, वेंकटेश शेखर रोहित , सौरभ राय, किशन नायर, की विशेष भूमिका रही।

Our channels

और पढ़ें