April 18, 2024 7:49 pm
Srinath University Adv (1)

भाजपा विधायकों ने न्यायालय द्वारा विधायकों के निलंबन को रद्द करने के लिए आभार प्रकट किया

Xavier Public School april

सोशल संवाद/दिल्ली (रिपोर्ट – सिद्धार्थ प्रकाश): दिल्ली भाजपा विधायक दल ने आज नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी के नेतृत्व में एक संवाददाता सम्मेलन के माध्यम से कोर्ट द्वारा भाजपा विधायकों के निलंबन रद्द करने के लिए आभार प्रकट किया और अरविंद केजरीवाल के भ्रष्टता और क्रूरता भरे शासन को उजागर किया। साथ ही भाजपा विधायकों ने मांग की है कि विधायक निलंबन रद्द करने के न्यायालय के फैसले के बाद दिल्ली के स्पीकर और मुख्यमंत्री को नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। पत्रकार वार्ता में विधायक विजेन्द्र गुप्ता, मोहन सिंह बिष्ट, ओमप्रकाश शर्मा, अजय महावर, जितेंद्र महाजन एवं अभय वर्मा उपस्थित थे।

रामवीर सिंह बिधूड़ी ने कहा कि मेरे अभी तक की राजनीतिक करियर में अरविंद केजरीवाल सरकार सबसे भ्रष्ट सरकार साबित हुई है। मैने स्व: मदनलाल खुराना, साहिब सिंह वर्मा एवं शीला दीक्षित की सरकारें देखी हैं लेकिन इतना ऐसी भ्रष्ट सरकार दिल्ली के इतिहास में नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि विधानसभा नियमों को ताक पर रखकर चलाया जाता है और पिछले चार साल में विपक्ष के किसी भी मुद्दे पर चर्चा नहीं कराई गई है और जब हम इसके खिलाफ आवाज उठाते हैं तो हमें मार्शल आउट कर दिया जाता है।

बिधूड़ी ने कहा कि विधानसभा में सिर्फ झूठ बोला जाता है। अरविन्द केजरीवाल द्वारा यह झूठ कहा गया कि दिल्ली के अंदर जो 73 लाख लोगों को मुफ्त राशन दिया जा रहा है वह केजरीवाल सरकार द्वारा दिया जा रहा है। इसके अलावा प्रगति मैदान टनल दिल्ली सरकार द्वारा बनाने का दावा किया गया जबकि इस पर केन्द्र की मोदी सरकार ने 1000 करोड रुपए खर्च किए हैं।उन्होंने कहा कि दिल्ली में 1650 इलेक्ट्रॉनिक बसें मोदी सरकार ने 650 करोड रुपए खर्च कर उपलब्ध करवाई लेकिन उसे भी केजरीवाल सरकार अपना बताने से पीछे नहीं हटी। बिधूड़ी ने कहा कि भाजपा विधायकों ने हमेशा दिल्ली की आवाज को विधानसभा में उठाने का प्रयास किया जिसे केजरीवाल सरकार ने दबाने का काम किया जबकि विधानसभा के अंदर आम आदमी पार्टी के विधायकों ने माननीय उप राज्यपाल के खिलाफ अपशब्द बोले और हाय हाय के नारे लगाए और हमेशा उनके ऊपर आरोप लगाते रहे।

विजेंद्र गुप्ता ने केस से संबंधित सभी तथ्यों को रखा और कहा कि आज भाजपा विधायक दल एक विजेता के रूप में सबके सामने खड़ा है जिस तरह से अपनी हिटलर शाही, अराजकता और मनमाने ढंग से विधानसभा को स्पीकर और दिल्ली के मुख्यमंत्री ने चलाया है हाई कोर्ट ने उनको इस फैसले से आइना दिखाया है।उन्होंने कहा कि सदन में हमारे विधायको को नहीं बैठने दिया जाता। आज सदन एक घंटा भी नहीं चला मतलब चलते सदन में आज का दिन पूरी तरह से सदन का स्थगित होना दिल्ली के इतिहास में पहली बार हुआ है। गुप्ता ने कहा कि आज बदले की भावना से अरविंद केजरीवाल सरकार चला रहे हैं और भाजपा विधायकों को सदन से निकाल रहे हैं। सत्ताधारी विधायक खुलेआम कह रहे हैं कि उन्होंने बदले की भावना से भाजपा की विधायकों को बाहर किया है। उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल ईडी और सीबीआई से बचने के लिए सदन को एक हथियार के रूप में इस्तेमाल कर रहे हैं।

मोहन सिंह बिष्ट ने कहा कि दिल्ली सरकार पिछले 10 सालों में क्या काम किया और जो बजट प्रस्तुत किया गया है वह अगले साल के लिए होता है तो अगले साल में क्या-क्या टारगेट है और किन उद्देश्यों के साथ सरकार आगे बढ़ेगी इन सब विषयों पर चर्चा करने के लिए विपक्ष का होना बहुत जरूरी है लेकिन केजरीवाल सरकार ने अपनी मनमानी करते हुए विपक्ष को बिना किसी वजह के सदन से बाहर कर दिया। उन्होंने कहा कि बजट में कटौती कर केजरीवाल सरकार इसे रामराज बजट बता रही है जो कि दिल्ली की जनता के साथ सरासर धोखा है। कुछ माह पहले तक राम मंदिर का विरोध करने वाले राम राज्य को दुहाई दे रहे हैं।

अजय महावर ने अरविंद केजरीवाल से सवाल करते हुए कहा कि बार-बार स्वराज की बात करने वाले अरविंद केजरीवाल बताएं कि क्या दारू के ठेके खोलकर स्वराज लाया जाता है। उन्होंने कहा कि ग्रीन बजट की बात करने वाले अरविंद केजरीवाल को सुप्रीम कोर्ट ने आईना दिखाते हुए कहा कि दिल्ली गैस चैंबर में तब्दील हो गई है। क्या इस तरह के बेतुके बयान बाजी करने से दिल्ली में विकास और वर्ल्ड क्लास मॉडल की स्थापना केजरीवाल करने चले थे।अभय वर्मा ने कहा की राम राज्य वाले बजट की बात करने वाले अरविंद केजरीवाल गत 9 साल से रावण रूपी अहंकारी शासन चला रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसी क्या मजबूरी है की पिछले 22 से 23 दिनों तक लगातार सदन चलाया जा रहा है जबकि विपक्ष का कोई भी विधायक नहीं है।

ओमप्रकाश शर्मा ने कहा की भाजपा 8 विधायक जहाँ अपने क्षेत्रों में विकास के लियें काम कर रहे वहीं केजरीवाल विधायक अपने निजी विकास के लिए काम कर रहे हैं। जितेंद्र महाजन ने कहा की केजरीवाल सरकार ने विधानसभा की गरिमा को तार तार किया है और इसको पार्टी की पंचायत बना डाला है जिसके लिए संवैधानिक व्यवस्थाएं उन्हे कभी माफ नही करेंगी।

Print
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
जाने छठ पूजा से जुड़ी ये खास बाते विराट कोहली का जन्म एक मध्यमवर्गीय परिवार में 5 नवंबर 1988 को हुआ. बॉलीवुड की ये top 5 फेमस अभिनेत्रिया, जिन्होंने क्रिकेटर्स के साथ की शादी दिवाली पर पिछले 500 सालों में नहीं बना ऐसा दुर्लभ महासंयोग सोना खरीदने से पहले खुद पहचानें असली है या नकली धनतेरस में भूल कर भी न ख़रीदे ये वस्तुएं दिवाली पर रंगोली कहीं गलत तो नहीं बना रहे Ananya Panday करेगीं अपने से 13 साल बड़े Actor से शादी WhatsApp में आ रहे 5 कमाल के फीचर ये कपल को जमकर किया जा रहा ट्रोल…बच्ची जैसी दिखती है पत्नी