February 28, 2024 12:54 pm

हार्ट हेल्थ सुधारने से लेकर वजन कम करने तक डार्क चॉकलेट आता है काम

Advertise

सोशल संवाद/डेस्क : डार्क चॉकलेट ऐसी चॉकलेट होती है जिसमें अन्य प्रकार की चॉकलेट्स की तुलना में कोको अधिक होता है और चीनी कम होती है. यह आमतौर पर मिल्क चॉकलेट की तुलना में अधिक फायदेमंद और कम मीठी होती है. स्वास्थ्य के विभिन्न पहलुओं पर इसे खाने के काफी  लाभ होते हैं. इसे सीमित मात्रा में खाना काफी फायदेमंद माना जाता है. मेरिकन जर्नल ऑफ क्लिनिकल न्यूट्रिशन में प्रकाशित हाल के अध्ययनों से पता चलता है कि चॉकलेट में कुछ ऐसे गुण होते हैं जो मस्तिष्क की कार्यप्रणाली में सुधार करते हैं, साथ ही मानसिक स्वास्थ्य स्थितियों में भी मदद करते हैं.

एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर (High in antioxidants)

डार्क चॉकलेट एंटीऑक्सिडेंट्स, विशेष रूप से फ्लेवोनोइड्स से भरपूर होती है जो शरीर में मुक्त कणों से लड़ने और ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करने में मदद करती है. इससे हार्ट प्रॉब्लम्स और कैंसर जैसी पुरानी बीमारियों को रोकने में मदद मिल सकती है.

वेट मैनेजमेंट (Weight management)

डार्क चॉकलेट में कैलोरी तो अधिक होती है लेकिन इसमें फाइबर भी काफी अधिक होता है. अगर कोई इसका सेवन करता है तो फाइबर के कारण उसे कम भूख लगती है और अनहेल्दी स्नैकिंग की लत नहीं रहती.

मस्तिष्क की कार्यक्षमता में वृद्धि (Enhanced brain function)

डार्क चॉकलेट में मौजूद फ्लेवोनोइड्स मस्तिष्क में रक्त के प्रवाह में सुधार करते हैं, जो स्मृति, एकाग्रता और समग्र मस्तिष्क प्रदर्शन जैसे कामों को बढ़ावा देता है. 

मूड बूस्ट करे (Mood booster)

डार्क चॉकलेट में ऐसे कंपाउंड होते हैं जो मस्तिष्क में एंडोर्फिन को रिलीज करते हैं जिससे खुशी और अच्छी भावनाएं पैदा होती हैं. इसमें सेरोटोनिन भी होता है, जो प्राकृतिक डिप्रेशनरोधी के रूप में काम करता है.

तनाव कम करना (Reduced stress)

डार्क चॉकलेट के सेवन को शरीर में कोर्टिसोल जैसे तनाव हार्मोन में कमी आती है. इससे तनाव कम करने और रिलेक्स वाली फीलिंग बढ़ती है.

Our channels

और पढ़ें