May 19, 2024 4:38 am
Search
Close this search box.
Srinath University Adv (1)

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने प्रदूषण के कारणों को नियंत्रित करने में दृष्टिहीन दिल्ली और पंजाब सरकारों की विफलताओं पर अरविंद केजरीवाल को पत्र लिखा

वीरेंद्र सचदेवा
Xavier Public School april

सोशल संवाद/दिल्ली (रिपोर्ट – सिद्धार्थ प्रकाश ) : दिल्ली भाजपा अध्यक्ष श्री वीरेंद्र सचदेवा ने आज “आप” संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को एक पत्र में दिल्ली और पंजाब सरकार की प्रदूषण के कारणों को नियंत्रित करने में विफलता के लिए निंदा की है, जिसके परिणामस्वरूप दिल्ली के हालत खराब होकर दिल्ली एक गैस चैम्बर बन गई है।

पत्र में कहा गया है कि यह अफसोस की बात है कि आम आदमी पार्टी के नेतृत्व वाली दोनों सरकारें पंजाब के किसानों द्वारा पराली जलाने से रोकने एवं दिल्ली की सड़कों के रखरखाव और प्रदूषक वाहनों को हटाने और सड़कों एवं सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था को मजबूत करने जैसे प्रदूषण विरोधी कदमों पर पूरी तरह से दृष्टिहीन हैं।

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से आग्रह किया है कि वे कल्पना करें कि अगर केंद्र सरकार ने दिल्ली में ईस्टर्न वेस्टर्न पेरीफेल्स और अन्य राजमार्गों जैसे दिल्ली मेरठ हाईवे, द्वारका एक्सप्रेसवे, धौला कौन महिपालपुर रोड, तीसरी रिंग आदि का निर्माण नहीं किया होता और 700 इलैक्ट्रानिक बसों का उपहार दिल्ली को नहीं दिया होता तो दिल्लीवासियों को क्या झेलना पड़ता।

पत्र में दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने पंजाब सरकार द्वारा पंजाब के किसानों द्वारा पराली जलाने को रोकने में मदद करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा प्रदान की गई हजारों करोड़ रुपये की मशीनों और धन का उपयोग नहीं करने पर आश्चर्य व्यक्त किया है। पत्र में पीडब्ल्यूडी और एमसीडी दोनों की टूटी सड़कों को बनाने या सड़कों के किनारे वृक्षारोपण करने में केजरीवाल सरकार की विफलता पर आश्चर्य व्यक्त किया गया है। साथ ही लाखों गैर-प्रदूषण स्तर वाले वाहनों को सड़क से हटाने के लिए सख्त कदम नही उठाए गए हैं, जिसने दिल्ली की हवा को पूरी तरह से जहरीला कर दिया है।

सचदेवा ने कहा है कि यह दुखद है कि हमारे सर्वोत्तम प्रयासों के बावजूद केजरीवाल सरकार ने प्रदूषण के खिलाफ लड़ाई में विपक्षी दलों को शामिल नहीं किया है और न ही प्रदूषण तत्वों से निपटने के लिए कोई इच्छाशक्ति दिखाई है। दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने अपने पत्र के अंत में अरविंद केजरीवाल से सभी हितधारकों को शामिल करके प्रदूषण के खिलाफ लड़ने के लिए उपचारात्मक कदम उठाने का आह्वान किया है।

 

Print
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
जाने छठ पूजा से जुड़ी ये खास बाते विराट कोहली का जन्म एक मध्यमवर्गीय परिवार में 5 नवंबर 1988 को हुआ. बॉलीवुड की ये top 5 फेमस अभिनेत्रिया, जिन्होंने क्रिकेटर्स के साथ की शादी दिवाली पर पिछले 500 सालों में नहीं बना ऐसा दुर्लभ महासंयोग सोना खरीदने से पहले खुद पहचानें असली है या नकली धनतेरस में भूल कर भी न ख़रीदे ये वस्तुएं दिवाली पर रंगोली कहीं गलत तो नहीं बना रहे Ananya Panday करेगीं अपने से 13 साल बड़े Actor से शादी WhatsApp में आ रहे 5 कमाल के फीचर ये कपल को जमकर किया जा रहा ट्रोल…बच्ची जैसी दिखती है पत्नी