April 18, 2024 7:12 pm
Srinath University Adv (1)

दिल्ली में नागरिकता पाने वाले शरणार्थियों का प्रदर्शन उनके मान्यता प्राप्त वैश्विक मानवीय अधिकार के अंतर्गत है – वीरेंद्र सचदेवा

Xavier Public School april

सोशल संवाद/दिल्ली (रिपोर्ट– सिद्धार्थ प्रकाश): दिल्ली भाजपा अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने आज एक पत्रकार वार्ता में कहा है कि ऐसा लगता है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सीएए के कार्यान्वयन से राजनीतिक रूप से निराश हैं और अपना राजनीतिक आपा खो चुके हैं।

पत्रकार वार्ता का संचलन मीडिया विभाग प्रमुख प्रवीण शंकर कपूर ने मंत्री हरीश खुराना एवं मीडिया रिलेशन प्रमुख विक्रम मित्तल की उपस्थिती में किया और कहा की सी एम केजरीवाल को हिन्दू सिख शरणार्थियों को अपमानित करते देख कर हर दिल्ली वाले का सिर शर्म से झुक रहा है। दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने कहा है कि एक दिन सीएम केजरीवाल पाकिस्तान और अफगानिस्तान से आए प्रताड़ित शरणार्थियों को संरक्षण देने के लिए केंद्र को चुनौती देते हैं, दूसरे दिन केजरीवाल बार-बार व्यंग्य करते हुए हिंदू शरणार्थियों को पाकिस्तानी कहकर संबोधित करते हैं और ऐसा व्यवहार करते हैं मानो पाकिस्तानी कहना उन्हें बदनाम करने के लिए एक गाली है।

केजरीवाल ने बेशर्मी से एक बार फिर सोशल मीडिया एक्स पोस्ट कर शरणार्थियों पर कटाक्ष करते हुए उन्हें पाकिस्तानी बताया है और धमकी देते हुए कहा है कि इन पाकिस्तानी घुसपैठियों की प्रदर्शन करने की हिम्मत कैसे हुई। सचदेवा ने कहा है की केजरीवाल इन शरणार्थियों को पाकिस्तानी कह कर उन सभी पंजाबियों का अपमान कर रहे जो 1947 के बटवारे के समय भारत आये थे। केजरीवाल खुद एक आंदोलनजीवी हैं, जिनका राजनीतिक करियर प्रदर्शनों पर निर्भर रहा है और यह शर्मनाक है कि आज वह अपने अधिकारों के लिए प्रदर्शन कर रहे पाकिस्तान और अफगानिस्तान के प्रताड़ित हिंदुओं को गालियां दे रहे हैं।

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने केजरीवाल से विश्व राजनीति का अध्ययन कर यह समझने को कहा है कि दुनिया भर में प्रताड़ित प्रवासी अपने मूल देश में अल्पसंख्यकों या प्रदर्शनकारियों के दमन के खिलाफ या अस्लायम देशों में अपने अधिकारों के लिए प्रदर्शन करते रहते हैं, इसलिए दिल्ली में नागरिकता पाने जा रहे शरणार्थियों का प्रदर्शन अंदर ही अंदर है उनके मान्यता प्राप्त मानवीय वैश्विक अधिकार प्रोटोकॉल के अनुरूप है।

Print
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
जाने छठ पूजा से जुड़ी ये खास बाते विराट कोहली का जन्म एक मध्यमवर्गीय परिवार में 5 नवंबर 1988 को हुआ. बॉलीवुड की ये top 5 फेमस अभिनेत्रिया, जिन्होंने क्रिकेटर्स के साथ की शादी दिवाली पर पिछले 500 सालों में नहीं बना ऐसा दुर्लभ महासंयोग सोना खरीदने से पहले खुद पहचानें असली है या नकली धनतेरस में भूल कर भी न ख़रीदे ये वस्तुएं दिवाली पर रंगोली कहीं गलत तो नहीं बना रहे Ananya Panday करेगीं अपने से 13 साल बड़े Actor से शादी WhatsApp में आ रहे 5 कमाल के फीचर ये कपल को जमकर किया जा रहा ट्रोल…बच्ची जैसी दिखती है पत्नी