July 18, 2024 9:24 am
Search
Close this search box.

को-ऑपरेटिव कॉलेज में पीठासीन पदाधिकारी और मतदान अधिकारी के प्रथम चरण का प्रशिक्षण कार्यक्रम संपन्न

सोशल संवाद/डेस्क : लोकसभा चुनाव 2024 के मद्देनजर पीठासीन पदाधिकारी और मतदान अधिकारी के प्रथम चरण का प्रशिक्षण कार्यक्रम को-ऑपरेटिव कॉलेज, जमशेदपुर में संचालित किया गया। इस 5 दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम के अंतिम दिन जिला निर्वाचन पदाधिकारी श्री अनन्य मित्तल एवं उप विकास आयुक्त श्री मनीष कुमार निरीक्षण करने पहुंचे । उन्होंने सभी प्रशिक्षुओं से प्रशिक्षण के दौरान चुनाव में बरती जाने वाली सावधानियों एवं प्रशिक्षण की गुणवत्ता पर विशेष बल दिया । साथ ही समय-समय पर दिए जाने वाले प्रशिक्षण में अनिवार्य रूप से उपस्थित रहने का निर्देश दिया । पांच दिन दो पाली में आयोजित इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में पीठासीन पदाधिकारी के साथ-साथ प्रथम, द्वितीय व तृतीय मतदान पदाधिकारी के कुल 10972 प्रशिणार्थियों को प्रशिक्षण दिया गया ।

जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने पदाधिकारियों को चुनाव कार्य को सफलतापूर्वक और त्रुटिरहित संपन्न कराने के लिए ईवीएम पर अच्छे से हैंड्स ऑन ट्रेनिंग लेने, मास्टर ट्रेनर द्वारा बताई गई हर बिंदुओं पर बारिकी से अध्ययन करने एवं उसका पालन करने का निर्देश दिया । उन्होने कहा कि प्रशिक्षण जितना बेहतर होगा, मतदान प्रक्रिया का संचालन भी उसी अनुरूप और बेहतर तरीके से कर पायेंगे । जहां कोई शंका हो उसे बार-बार पूछें। मतदान दिवस को बूथ पर पीठासीन व मतदान पदाधिकारी की भूमिका काफी महत्वपूर्ण होती है ऐसे में अपने जिम्मेदारियों को अच्छी तरह से समझें।

मतदान कार्य से जुड़े सभी पदाधिकारियों एवं कर्मियों को ईवीएम, वीवी पैट के कनेक्शन, संचालन एवं समस्त मतदान प्रक्रियाओं का गहन प्रशिक्षण दिया गया। इसी के आलोक में प्रशिक्षण कोषांग द्वारा निर्धारित कैलेंडर के अनुसार प्रशिक्षण का आयोजन किया गया। पीठासीन पदाधिकारियों के कार्यों एवं दायित्वों के संबंध में मास्टर ट्रेनर द्वारा विस्तृत जानकारी पीपीटी के माध्यम से दी गई। प्रथम प्रशिक्षण में उपस्थित मतदान कर्मियों से ईवीएम वीवी पैट कनेक्टिविटी एवं मॉक पोल का डेमो भी कराया गया। प्रशिक्षण कोषांग द्वारा प्रशिक्षण में भाग ले रहे प्रतिभागियों को कार्य एवं दायित्व संबंधी मार्गदर्शिका भी उपलब्ध कराया गया ।  इस दौरान एडीएम(एसओआर) श्री महेन्द्र कुमार, डीसीएलआर घाटशिला  श्री नीत निखिल सुरीन, सहायक निदेशक पंचायती राज डॉ रजनीकांत मिश्रा, जिला जनसपर्क पदाधिकारी श्री पंचानन उरांव समेत अन्य उपस्थित थे।

Print
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
जाने छठ पूजा से जुड़ी ये खास बाते विराट कोहली का जन्म एक मध्यमवर्गीय परिवार में 5 नवंबर 1988 को हुआ. बॉलीवुड की ये top 5 फेमस अभिनेत्रिया, जिन्होंने क्रिकेटर्स के साथ की शादी दिवाली पर पिछले 500 सालों में नहीं बना ऐसा दुर्लभ महासंयोग सोना खरीदने से पहले खुद पहचानें असली है या नकली धनतेरस में भूल कर भी न ख़रीदे ये वस्तुएं दिवाली पर रंगोली कहीं गलत तो नहीं बना रहे Ananya Panday करेगीं अपने से 13 साल बड़े Actor से शादी WhatsApp में आ रहे 5 कमाल के फीचर ये कपल को जमकर किया जा रहा ट्रोल…बच्ची जैसी दिखती है पत्नी