February 23, 2024 5:01 am

केजरीवाल सरकार टेस्ट एवं एक्स रे आदि निजी कम्पनियों को देकर सैकड़ों करोड़ आम आदमी पार्टी खजाने में किक बैक ले रही है जिसकी सी.बी.आई. जांच आवश्यक है – वीरेन्द्र सचदेवा

सोशल संवाद/दिल्ली (सिद्धार्थ प्रकाश ) : दिल्ली भाजपा अध्यक्ष वीरेन्द्र सचदेवा ने कहा है की यह अत्यन्त खेदपूर्ण है की अभी 20 दिन पहले अरविंद केजरीवाल शासित दिल्ली सरकार के अस्पतालों में नकली एवं घटिया दवाई वितरण का स्कैम की जानकारी सामने आने से दिल्ली एवं देश की जनता स्तब्ध हुई थी और आज फिर सुबह सुबह केजरीवाल सरकार के स्वास्थ्य विभाग एक और सैंकड़ों करोड़ का पैथोलॉजी टेस्ट घोटाला सामने आने से दिल्ली की जनता शर्मसार है। सचदेवा ने कहा है की इस पैथोलॉजी घोटाले में केजरीवाल सरकार की भूमिका और अधिक स्पष्ट करने वाली बात यह है की खुद मुख्य मंत्री अरविंद केजरीवाल, तत्कालीन स्वास्थ्य मंत्री मनीष सिसोदिया एवं वर्तमान स्वास्थ्य मंत्री सौरभ भारद्वाज की जानकारी में अगस्त 2022 से है पर यह इस पर चुप्पी साधे बैठे रहे।

केजरीवाल सरकार की पैथोलॉजी टेस्ट घोटाले की जानकारी होने पर भी चुप रहना साफ दर्शाता है की यह पूरा घोटाला खुद मुख्य मंत्री केजरीवाल के इशारे पर हुआ और इसलिए केजरीवाल ने मोहल्ला क्लीनिक ही नही सरकारी अस्पतालों की भी अधिकांश टेस्ट एवं एक्स रे आदि सेवाएं निजी कम्पनियों को सौंप दी हैं। वीरेन्द्र सचदेवा ने कहा है की साफ है केजरीवाल सरकार टेस्ट एवं एक्स रे आदि निजी कम्पनियों को देकर सैकड़ों करोड़ आम आदमी पार्टी खजाने में किक बैक ले रही है जिसकी सी.बी.आई. जांच आवश्यक है।

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने कहा है की कल शाम दिल्ली सरकार के वन विभाग का लगभग 240 करोड़ का घोटाला सामने आया है और सरकार उसको अफसरों पर थोपना चाह रही है जो समझ से परे है। सचदेवा ने कहा है की यह कैसे मुमकिन है की केजरीवाल सरकार के वन विभाग में महीनों तक 240 करोड़ का घोटाला चला और मुख्य मंत्री को मालूम ही नही पड़ा, इस मामले में मुख्य मंत्री एवं वन मंत्री भी संदिग्ध में जुड़ें इनकी भी जांच हो।

Our channels

और पढ़ें