April 18, 2024 6:47 pm
Srinath University Adv (1)

टाटा – बक्सर ट्रेन परिचालन के समय परिवर्तन एवं साउथ बिहार एक्सप्रेस को बक्सर तक करने हेतु रेल मंत्री को आग्रह एवं सुझाव पत्र

Xavier Public School april

सोशल संवाद/डेस्क: विश्व भोजपुरी विकास परिषद् एवं सिंहभूम केन्द्रीय एवं वरिष्ठ नागरिक समिति द्वारा माननीय रेल मंत्री अश्विन वैष्णव जी को कोटि-कोटि धन्यवाद एवं आभार व्यक्त करते हुए माननीय महोदय का ध्यान आपके माध्यम से निम्नलिखित बिंदुओं पर आकर्षित कर रहा है।

टाटा – बक्सर ट्रेन परिचालन का समय वर्तमान में सुबह 8:15 में टाटा से चलकर बक्सर रात 10:50 में पहुंचने वाली और सुबह 3:45 में बक्सर से चलकर शाम 5:25 में टाटा आने वाली टाटा बक्सर ट्रेन का जो समय निर्धारित किया गया है वह सुदूर ग्रामीण क्षेत्र के यात्री के लिए उपयोगी नहीं है। अतः परिषद् माननीय रेल मंत्री को प्रेस के माध्यम से निम्नलिखित सुझाव देता है।

सुझाव :-

(1) ट्रेन को सुबह 5 बजे से 6 बजे के बीच में प्रारंभ किया जाय ,टाटा से भी और बक्सर से भी इससे उस क्षेत्र में पहुंचने वाले यात्री लगभग शाम 7 बजे  से 8  बजे के बीच में पहुंचेंगे तो उन्हें अपने गंतव्य तक जाने में सुविधा होगी।

(2) टाटा -बक्सर ट्रेन में पैंट्री कार की भी व्यवस्था हो ताकि सुबह से लेकर रात तक सफर करने वाले यात्रियों को स्वच्छ, स्वादिष्ट एवं सुपाच्य जलपान एवं भोजन की व्यवस्था मिल सके।

(3) परिषद् आपका ध्यान बहुमुखी ट्रेन (साउथ बिहार एक्सप्रेस) जो कि कालांतर में टाटानगर से दानापुर तक जाती थी बक्सर तक उसकी मांग हमेशा से की जाती रही हैं लेकिन बिडम्बना यह की बक्सर होने के बदले यह ट्रेन दुर्ग तक चली गई और दानापुर से घटकर राजेंद्र नगर तक आ गई, वर्तमान में यह ट्रेन आरा तक चल रही है। टाटा – बक्सर सुबह के ट्रेन प्रारंभ होने से हम झारखंड बिहार के यात्रियों विशेषकर भोजपुरी भाषी यात्रियों को यह रेल मंत्री से आशा जगी है कि माननीय महोदय के कर कमल के प्रयास से वह दिन संभव हुआ है। अब साउथ बिहार एक्सप्रेस को भी बक्सर तक कर दिया जाए ताकि वहां के यात्री सुगमता से अपनी यात्रा कर सके।

महाशय जहां तक ट्रैक की बात है तो एक ही ट्रैक पर रात में टाटानगर बक्सर ट्रेन और दिन में साउथ बिहार एक्सप्रेस रुकेगी और वाशिंग होगा,अलग से ट्रैक की आवश्कता नही है। अतः उपरोक्त तीनो सुझाव पर गम्भीरतापूर्वक विचार करने का प्रयास करे। विश्व भोजपुरी विकास परिषद् को उम्मीद ही नहीं पूर्ण विश्वास है कि आपकी स्वीकृति हम भोजपुरी भाषियो के लिए मिल का पत्थर साबित होगी।

प्रेस वार्ता में निम्नलिखित प्राधिकारी एवं सदस्य शामिल हुए श्रीनिवास तिवारी, मुन्ना चौबे, मिथिलेश प्रसाद श्रीवास्तव, शिवपूजन सिंह, रेणू देवी,डाॅ अजय किशोर चौबे,ब्यूटी तिवारी,कैलाश प्रसाद,  सीताराम ओझा और गुड़िया देवी उपस्थित धे।

Print
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
जाने छठ पूजा से जुड़ी ये खास बाते विराट कोहली का जन्म एक मध्यमवर्गीय परिवार में 5 नवंबर 1988 को हुआ. बॉलीवुड की ये top 5 फेमस अभिनेत्रिया, जिन्होंने क्रिकेटर्स के साथ की शादी दिवाली पर पिछले 500 सालों में नहीं बना ऐसा दुर्लभ महासंयोग सोना खरीदने से पहले खुद पहचानें असली है या नकली धनतेरस में भूल कर भी न ख़रीदे ये वस्तुएं दिवाली पर रंगोली कहीं गलत तो नहीं बना रहे Ananya Panday करेगीं अपने से 13 साल बड़े Actor से शादी WhatsApp में आ रहे 5 कमाल के फीचर ये कपल को जमकर किया जा रहा ट्रोल…बच्ची जैसी दिखती है पत्नी