June 18, 2024 6:25 pm
Search
Close this search box.
Srinath University Adv (1)

अब जब केजरीवाल के सहयोगी विभव कुमार को गिरफ्तार कर लिया गया है तो वह दिन दूर नहीं जब अरविंद केजरीवाल की राजनीति के कई गंदे पन्ने सार्वजनिक होंगे–वीरेंद्र सचदेवा

sona davi ad june 1

सोशल संवाद/ दिल्ली( रिपोर्ट – सिद्धार्थ प्रकाश): 18 मई दिल्ली भाजपा अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने कहा कि यह बेहद शर्मनाक है कि अरविंद केजरीवाल अपने दशकों पुराने रिश्ते को भूलकर अब अपनी साथी सुश्री स्वाति मालीवाल के चरित्र को धूमिल कर रहे हैं, जो उनके साथ दो दशकों से अधिक समय से जुड़ी हुई हैं।

सचदेवा ने कहा है कि अब जब केजरीवाल के सहयोगी विभव कुमार गिरफ्तार हो गये हैं तो वह दिन दूर नहीं जब अरविंद केजरीवाल की राजनीति के कई गंदे पन्ने सार्वजनिक हो जायेंगे। यह आश्चर्य की बात है कि केजरीवाल विभव कुमार को अपने ही घर में छुपा रहे थे, जिससे साफ पता चलता है कि विभव और केजरीवाल व्यक्तिगत रूप से कितने करीब हैं।सचदेवा ने कहा कि यह खेदजनक है कि सुश्री को बदनाम करने के प्रयास में कल से सोशल मीडिया समूहों में संपादित वीडियो प्रसारित किये जा रहे हैं सुश्री स्वाति मालीवाल जो आम आदमी पार्टी की सदस्य हैं को बदनाम करने के लिए।

आज टीम केजरीवाल सुश्री मालीवाल की मुख्यमंत्री से मुलाकात के लिए प्रोटोकॉल की बात कर रही है लेकिन ये वही सुश्री स्वाति मालीवाल हैं जो तीन महीने पहले ही मुख्यमंत्री की इतनी करीबी थीं कि उन्हें राज्यसभा का सदस्य बना दिया गया था। भाजपा एक प्रमुख राजनीतिक दल है, लेकिन हमारे किसी भी सांसद को प्रदेश अध्यक्ष से मिलने के लिए किसी प्रोटोकॉल का पालन नहीं करना पड़ता है।बीजेपी की मांग है कि क्योंकि आम आदमी पार्टी सुश्री स्वाति मालीवाल को संपादित वीडियो दिखाकर बदनाम कर रही है इससिए बेहतर होगा कि दिल्ली पुलिस तुरंत मुख्यमंत्री आवास की पूरी सीसीटीवी फुटेज अपने कब्जे में ले ले।

सचदेवा ने कहा कि विभव कुमार सिर्फ मुख्यमंत्री केजरीवाल के समर्थक या सहयोगी नहीं हैं, बल्कि वह उनके अच्छे-बुरे कर्मों के राज़दार भी हैं और वह एक ऐसा तोता हैं, जिसमें अरविंद केजरीवाल की आत्मा बसती है।केजरीवाल जानते हैं कि अगर विभव कुमार के खिलाफ कोई कार्रवाई की गई तो वह कई करतूतों का खुलासा कर सकते हैं और इसीलिए केजरीवाल को उन्हें अपने घर में छिपाना पड़ा।

वीरेंद्र सचदेवा ने कहा कि सुश्री स्वाति मालीवाल पहली महिला नेता नहीं हैं जिन्हें केजरीवाल पार्टी ने बदनाम किया है या उन पर आरोप लगाया है।इससे पहले, उन्होंने दिवंगत सहकर्मी संतोष कोली के अलावा किरण बेदी, शाज़िया इल्मी और ऋचा पांडे के बारे में भी सवाल उठाए थे, जिन महिला सहयोगियों को अपमानजनक व्यवहार के कारण केजरीवाल को छोड़ना पड़ा था। दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि अब जब पूरी आम आदमी पार्टी सुश्री स्वाति मालीवाल के चरित्र को धूमिल कर रही है, तो केजरीवाल के लिए आगे आने और सुश्री स्वाति मालीवाल के साथ अपने दशकों पुराने संबंधों को स्पष्ट करने का समय आ गया है।

Print
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
जाने छठ पूजा से जुड़ी ये खास बाते विराट कोहली का जन्म एक मध्यमवर्गीय परिवार में 5 नवंबर 1988 को हुआ. बॉलीवुड की ये top 5 फेमस अभिनेत्रिया, जिन्होंने क्रिकेटर्स के साथ की शादी दिवाली पर पिछले 500 सालों में नहीं बना ऐसा दुर्लभ महासंयोग सोना खरीदने से पहले खुद पहचानें असली है या नकली धनतेरस में भूल कर भी न ख़रीदे ये वस्तुएं दिवाली पर रंगोली कहीं गलत तो नहीं बना रहे Ananya Panday करेगीं अपने से 13 साल बड़े Actor से शादी WhatsApp में आ रहे 5 कमाल के फीचर ये कपल को जमकर किया जा रहा ट्रोल…बच्ची जैसी दिखती है पत्नी