February 24, 2024 10:36 am

राम मंदिर को राष्ट्र मंदिर बनाने की तैयारी, दिए गए हैं कई निर्देश

सोशल संवाद / डेस्क : CM योगी कर रहे है राम मंदिर को राष्ट्र मंदिर बनाने की तैयारीराम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा को लेकर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने 2 जनवरी को अहम बैठक की. इस बैठक के दौरान सीएम योगी ने कहा कि रामलला की प्राण प्रतिष्ठा का समारोह अलौकिक, अभूतपूर्व और अविस्मरणीय होगा. 

यह भी पढ़े : जगन्नाथ मंदिर में हुआ ड्रेस कोड लागू ; शॉर्ट्स, फटी जींस, स्कर्ट और स्लीवेलेस कपड़े पहनकर आने वालों को नहीं मिलेगी Entry!

बैठक में अयोध्या के विकास कार्यों की समीक्षा करते हुए सीएम योगी ने यह भी कहा राम मंदिर राष्ट्र मंदिरके रूप में भारत की सांस्कृतिक, आध्यात्मिक और सामाजिक एकता का प्रतीक होगा. 22 जनवरी को प्राण प्रतिष्ठा के ऐतिहासिक कार्यक्रम को लेकर पूरा देश राममय है. यह सब अभूतपूर्व है और भावुक करने वाला है. ऐसे में राज्य सरकार के स्तर से अधिकारियों को सभी आवश्यक प्रबंध करने के निर्देश दिए गए हैं. सीएम योगी ने कहा कि यह हमारा सौभाग्य है कि हम उत्तर प्रदेश में निवासरत हैं, जहां प्रभु श्रीराम ने अवतार लिया. पूरी दुनिया आज अयोध्या की ओर उत्सुकता से देख रही है. प्राणप्रतिष्ठा समारोह में आने वाले अतिथियों तथा उसके बाद पर्यटकों/श्रद्धालुओं के आगमन को सुखद, संतोषप्रद अनुभव के लिए राज्य सरकार कोई कसर नहीं छोड़ेगी.

अयोध्या में सरकार की ओर से भंडारा चलाया जाएगा, जो माता शबरीभोजनालय के तौर पर जाना जाएगा.  इसी प्रकार रैन बसेरे को निषादराज गुह्य अतिथि गृहके रूप में विकसित किया जाएगा। अन्य भवनों के नामकरण भी इसी प्रकार रामायणकालीन चरित्रों के नाम पर किया जाएगा.

योगी ने साथ ही ये भी कहा कि रामभक्तों की सुविधा के लिए पूरे नगर में विभिन्न भाषाओं में साइनेज लगाए जाएं.  संविधान की 8वीं अनुसूची में सम्मिलित भाषाओं और संयुक्त राष्ट्र की 9 भाषाओं में साइनेज हों. अतिक्रमण हुआ तो कार्रवाई होगी. रेल से अयोध्या पधारने वाले श्रद्धालुओं को सीधी बस सेवा मिलेगी. 

 

Our channels

और पढ़ें