February 27, 2024 3:48 pm

पर्पल फूड्स खाने से होती है दिल की बीमारी दूर …जाने उपाये  

सोशल संवाद /डेस्क : सेहत का ख्याल रखने के लिए लोग क्या कुछ नही करते है.पर क्या आपको पता है की पर्पल फूड्स खाने से दिल के साथ-साथ दिमाग के लिए काफी फायदेमंद होता है.पर्पल फूड्स अपने डाइट में शामिल करने से बीमारियों से बचने मे मदद मिलती है. जिससे की ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने, नर्वस सिस्टम को हेल्दी रखने और कैंसर जैसी गंभीर बीमारी के जोखिम को कम करने में काफी मदद मिलतीहै. इन फूड्स में पर्पल पत्ता गोभी, ब्लैकबेरी, बैंगन, चुकंदर, प्लम, अंजीर, काले अंगूर आदि शामिल है.

Purple Food Benefits: हमारी सेहत को दुरुस्त रखने के लिए हमारी डाइट का हेल्दी होना बेहद आवश्यक है. शरीर के लिए सभी आवश्यक पोषक तत्व, हमारे खान-पान की मदद से ही हमें मिलता है. बदलती जीवनशैली की वजह से, वैसे भी हम आसानी से बीमारियों का शिकार हो जाते हैं. डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर, दिल की बीमारियां, इन सभी के बढ़ते मामलों के बीच अपनी डाइट को हेल्दी रखना और अधिक आवश्यक हो गया है. इसलिए हमें अपने खान-पान में ऐसे फूड आइटम्स को शामिल करना चाहिए, जो बीमारियों से बचाव में आपकी मदद कर सकें.

शरीर को हेल्दी रखने के लिए खाने में तरह-तरह की फल और सब्जियों को शामिल करना बेहद आवश्यक है.अलग-अलग रंग के होने की वजह से इसे रेनबो डाइट भी कहा जाता है. रेनबो के रंगों में से एक रंग पर्पल, आपकी सेहत के लिए किसी वरदान से कम नहीं होता. इस रंग के फल और सब्जियों को अपनी डाइट में शामिल करने के कई फायदे हैं, जो बीमारियों से बचाव में मददगार हैं. आइए जानते हैं क्या है पपर्ल कलर के फल और सब्जियों को डाइट में शामिल करने के फायदे.

दिल के लिए फायदेमंद

दिल को हेल्दी रखने के लिए जरूरी है कि कोलेस्ट्रोल और हाई ब्लड प्रेशर जैसी फैक्टर्स को कंट्रोल में रखा जाए. एंथोसायनिन बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करने और गुड कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने में मदद करता है.इससे आर्टरीज में इकट्ठा प्लेग साफ होता है और वे ब्लॉक नहीं होतीं, जिससे ब्लड सर्कुलेशन बेहतर रहता है और दिल बेहतर तरीके से काम कर पाता है.

ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने में मददगार

ब्लड प्रेशर अधिक होने की वजह से कई गंभीर बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है.इसलिए इसे कंट्रोल करना बेहद जरूरी होता है.एंथोसासयनिन आर्टरीज यानी रक्त धमनियों को स्वसथ रखने में मदद करता है, जिससे रक्त प्रवाह यानी ब्लड सर्कुलेशन के दौरान धमनियों की दीवारों पर अधिक दबाव नहीं पड़ता और ब्लड प्रेशर हाई होने का खतरा कम रहता है.इससे स्ट्रोक जैसी गंभीर बीमारी से भी बचाव में काफी मदद मिलती है.

इंफ्लमेशन कम करता है

इंफ्लेमेशन की वजह से शरीर में कई परेशानियां हो सकती हैं, जिनमें इम्यून सिस्टम का कमजोर होना, आर्टरीज को नुकसान आदि शामिल हैं. इसलिए पर्पल फूड खाने से सूजन कम होती है, जो इन परेशानियों से बचाव में काफी मददगार साबित होती है.इसकी मदद से सूजन की वजह से होने वाले दर्द को कम करने में भी मदद मिलती है.

कैंसर का जोखिम कम होता है

ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस की वजह से सेल डैमेज होने शुरू हो जाते हैं, जो कैंसर की वजह बन सकते है. इसलिए कैंसर के खतरे को कम करने के लिए फ्री-रेडिकल डैमेज को कम करना आवश्यक होता है.एंथोसायनिन एक प्रकार का एंटी-ऑक्सीडेंट होने की वजह से फ्री-रेडिकल डैमेज को कम करता है, जिससे कैंसर का खतरा कम होता है.

दिमाग के लिए फायदेमंद

एंथोसासनिन दिमाग को हेल्दी रखने में काफी मददगार होता है.इसकी मदद से डिमेंशिया के लक्षणों को कम करने में मदद मिलती है.ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होने और इंफ्लेमेशन कम होने की वजह से दिमाग के सेल्स कम डैमेज होते हैं, जिस कारण से न्यूरोलॉजिक डिजीज का खतरा कम होता है.

Our channels

और पढ़ें