April 24, 2024 12:28 pm
Search
Close this search box.
Srinath University Adv (1)

जल मंत्री द्वारा 21 फरवरी 2024 को पत्र लिखकर मुख्य सचिव को वाटर बिल सेटलमेंट स्कीम  को लेकर दिशानिर्देश देना साफ दर्शाता है की आज तक कोई वाटर बिल सेटलमेंट स्कीम बनी ही नही है – वीरेन्द्र सचदेवा

Xavier Public School april

सोशल संवाद/दिल्ली (रिपोर्ट – सिद्धार्थ प्रकाश ) : दिल्ली भाजपा अध्यक्ष श्री वीरेन्द्र सचदेवा ने कहा है यूँ तो भाजपा लगातार कहती रही है की वाटर बिल सेटलमेंट स्कीम अरविंद केजरीवाल सरकार का एक छलावा मात्र है, इसमे कोई स्कीम नही है। भाजपा लगातार कहती रही है की वाटर बिल सेटलमेंट स्कीम पर चर्चा केवल केजरीवाल सरकार पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों से जनता का ध्यान भटकाने का प्रयास है। श्री सचदेवा ने कहा है की आज वाटर बिल सेटलमेंट स्कीम को लेकर मीडिया के माध्यम से उपराज्यपाल का जो पत्र सामने आया है उससे स्पष्ट है की केजरीवाल सरकार को इस स्कीम में कभी कोई रूची नही रही।

गत वर्ष जनवरी में जिन दिनों पूर्व उप मुख्य मंत्री मनीष सिसोदिया की गिरफ्तारी की चर्चा रहती थी उस दौरान मुख्य मंत्री केजरीवाल ने वन टाइम सेटलमेंट स्कीम की चर्चा छेड़ी पर फरवरी 2023 में सिसोदिया के जेल में आने के बाद सरकार ने इसे ठंडे बस्ते में डाल दिया। जनवरी 2024 में जब खुद मुख्य मंत्री अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी की सम्भावनाओं पर मीडिया में चर्चा होने लगी तो सरकार ने एक वर्ष बार जनवरी 2024 के अंत में फिर से वन टाइम वाटर सेटलमेंट स्कीम की आधी अधूरी फाइल चला दी और जब अधिकारियों ने स्पष्टीकरण मांगे तो उन पर राजनीतिक आरोप लगा डाले।

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने कहा है की जल मंत्री द्वारा 21 फरवरी को पत्र लिखकर मुख्य सचिव को वाटर बिल सेटलमेंट स्कीम  को लेकर दिशानिर्देश देना साफ दर्शाता है की आज तक कोई वाटर बिल सेटलमेंट स्कीम बनी ही नही है।

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने कहा है की संवैधानिक व्यवस्थानुसार दिल्ली जल बोर्ड पूरी तरह राज्य सरकार के अंतर्गत आने वाला विषय है जिसमें उपराज्यपाल या केन्द्र सरकार का कोई हस्तक्षेप नही है, यदि केजरीवाल सरकार सचमुच अत्याधिक वाटर बिल प्राप्त जनता को राहत देना चाहती तो वह पहले अधिकारियों के साथ बैठ कर राहत स्कीम बनाये और क्योंकि अधिकांश उपभोक्ताओं को अत्याधिक वाटर बिल तेज़ दौड़ते एयर फ्लो मीटर या मीटर रीडरों की लापरवाही के कारण मिले हैं तो सरकार इसे अपनी गलती मान विवादित बिल वाले  उपभोक्ताओं को जीरो बिल जारी कर राहत दे।

Print
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
जाने छठ पूजा से जुड़ी ये खास बाते विराट कोहली का जन्म एक मध्यमवर्गीय परिवार में 5 नवंबर 1988 को हुआ. बॉलीवुड की ये top 5 फेमस अभिनेत्रिया, जिन्होंने क्रिकेटर्स के साथ की शादी दिवाली पर पिछले 500 सालों में नहीं बना ऐसा दुर्लभ महासंयोग सोना खरीदने से पहले खुद पहचानें असली है या नकली धनतेरस में भूल कर भी न ख़रीदे ये वस्तुएं दिवाली पर रंगोली कहीं गलत तो नहीं बना रहे Ananya Panday करेगीं अपने से 13 साल बड़े Actor से शादी WhatsApp में आ रहे 5 कमाल के फीचर ये कपल को जमकर किया जा रहा ट्रोल…बच्ची जैसी दिखती है पत्नी