July 17, 2024 3:48 pm
Search
Close this search box.

यह चुनाव समान्य परिस्थितियों में नहीं हो रहा है, बल्कि इस चुनाव पर पूरे देश और दुनिया की नजर है- अखिलेश यादव

सोशल संवाद/दिल्ली (रिपोर्ट – सिद्धार्थ प्रकाश) : आम आदमी पार्टी उत्तर प्रदेश में चुनाव नहीं लड़ेगी, लेकिन इंडिया गठबंधन के घटक दल समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के प्रत्याशियों को पूरा समर्थन देगी। आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता संजय सिंह ने समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ संयुक्त प्रेसवार्ता कर इस बात का एलान किया। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में हम बिना शर्त इंडिया गठबंधन के साथ खड़े हैं। यह चुनाव देश के लोकतंत्र और संविधान को बचाने और तानाशाह हुकूमत के खिलाफ जनता को लामबंद करने का है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी में भाजपा की जीत को लेकर आत्म विश्वास नहीं है। अगर भाजपा जीत रही होती तो वो चुनाव के दौरान विपक्ष के नेताओं के खिलाफ इस तरह कार्रवाई नहीं करते। वहीं, सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि यह चुनाव समान्य परिस्थितियों में नहीं हो रहा है, बल्कि इस चुनाव पर पूरे देश और दुनिया की नजर है। आज पूरी दुनिया में भारत की बदनामी हो रही है कि किसी राज्य के मुखिया को झूठे मुकदमें में जेल भेज दिया गया।

इंडिया गठबंधन के घटक दल आम आदमी पार्टी और समाजवादी पार्टी ने शुक्रवार को संयुक्त प्रेसवार्ता कर चुनाव को लेकर अपना पक्ष रखा। आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने कहा कि लगातार तीन बार प्रचंड बहुमत से चुने गए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को जेल में डाल दिया गया है। समाजवादी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल के समर्थन में दिल्ली पहुंचे और महारैली को संबोधित किया। आज भी अखिलेश यादव ने सीएम अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल से फोन पर बात कर हाल पूछा।  संजय सिंह ने कहा कि दिल्ली में भी भाजपा ने ऑपरेशन लोटस शुरू कर दिया है। हमारे मंत्री राजकुमार आनंद की फैक्ट्री पर पहले ईडी का छापा पड़वाया गया और बाद में उनको इस्तीफा देने का दबाव बनाया गया। उन्होंने कहा कि 2024 का लोकसभा चुनाव कोई समान्य चुनाव नहीं है, बल्कि यह भारत के लोकतंत्र, बाबा साहब के संविधान बचाने और समाज के वंचित, शोषित और पिछले लोगों के जो अधिकार छीने जा रहे हैं, नौजवानों को बेरोजगारी के दलदल में धकेला जा रहा है, आम आदमी को महंगाई की चपेट में लिया जा रहा है, उसको बचाने का चुनाव है। 2024 का चुनाव एक तानाशाह हुकूमत के खिलाफ देश की जनता को लामबंद करने करने का भी चुनाव है।

उन्होंने कहा कि इंडिया गठबंधन 2024 का लोकसभा चुनाव जीतेगा। उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के जहां पर भी प्रत्याशी हैं, वहां आम आदमी पार्टी के एक-एक कार्यकर्ता और निर्वाचित प्रतिनिधि इंडिया गठबंधन के प्रत्याशी को जीताने के लिए काम करेंगे। यह बड़ी लड़ाई है। यह लड़ाई लोकतंत्र को बचाने और तानाशाही को खत्म करने की है। कोई भी राजनेता अगर चुनाव जीत रहा होता है तो ऐसे हथकंडे नहीं अपनाता है, जैसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कर रहे हैं। अगर मोदी जी अपने विपक्षी दलों के नेताओं पर फर्जी मुकदमें लगा रहे हैं, उनको जेल में डाल रहे हैं, तो इसका मतलब है कि मोदी जी के अंदर जीत को लेकर आत्म विश्वास नहीं है। अगर आत्मविश्वास होता तो वो चुनाव के समय में ऐसी कार्रवाई कतई नहीं करते।  संजय सिंह ने कहा कि आम आदमी पार्टी उत्तर प्रदेश में चुनाव नहीं लड़ रही है और न तो अपने प्रत्याशी उतारेगी। आम आदमी पार्टी इंडिया गठबंधन के घटक दल समाजवादी पार्टी और कांग्रेस से कोई सीट की मांग नहीं कर रही है, बल्कि हम लोकतंत्र को बचाने और देश से तानाशाही को खत्म करने और भारत के संविधान की रक्षा करने के लिए हम सभी लोग बिना शर्त साथ हैं।

वहीं, समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि आम आदमी पार्टी के चुने हुए प्रतिनिधि और सभी कार्यकर्ता लोकसभा चुनाव की इस बड़ी लड़ाई में समाजवादियों का साथ दे रहे हैं। इस बार का लोकसभा चुनाव समान्य परिस्थितियों में नहीं हो रहा है। भारत में हो रहे लोकसभा चुनाव पर पूरे देश और दुनिया की नजर है। सीएम अरविंद केजरीवाल के समर्थन में दिल्ली में बड़ी रैली हुई थी। मैं भी उस रैली में गया था। मैंने कहा था कि दुनिया में भारत की बदनामी हुई है। भारत के बारे में चर्चा हो रही है कि चुने हुए लोग और किसी राज्य के मुखिया के साथ ऐसा हो रहा है। भारत की जिन संस्थाओं से लोगों को न्याय मिलना चाहिए, भाजपा उसमें भी हस्तक्षेप कर रही है। ऐसा तो हम लोग प्रधान स्तर के चुनाव में देखते थे। लेकिन किसी राज्य के चुने गए मुख्यमंत्री के साथ ऐसा व्यवहार नहीं किया गया है कि उसे झूठे मुकदमें लगाकर जेल भेज दिया जाए।

उन्होंने कहा कि दिल्ली की तरह ही झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को भी जेल भेज दिया गया। पूरा देश जानता है कि भाजपा ने इन्हीं संस्थाओं की मदद से महाराष्ट्र में अपनी सरकार बनवा ली। इन्हीं संस्थाओं से लोगों को डराकर वसूली कर ली, अब तो पुलिस को आगे करके लोगों को अपनी पार्टी में शामिल कर रहे हैं। भाजपा में गए कई नेताओं ने कहा है कि हम शरीर से तो भाजपा में जा रहे हैं, लेकिन आत्मा से आपके साथ हैं। ये लोग डराकर विपक्ष के नेताओं को भाजपा में शामिल करा रहे हैं। इसलिए देश के लोकतंत्र और संविधान को बचाने और दुनिया में भारत की पहचान बचाने के लिए आम आदमी पार्टी का हमें पूरा सहयोग मिल रहा है।

Print
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
जाने छठ पूजा से जुड़ी ये खास बाते विराट कोहली का जन्म एक मध्यमवर्गीय परिवार में 5 नवंबर 1988 को हुआ. बॉलीवुड की ये top 5 फेमस अभिनेत्रिया, जिन्होंने क्रिकेटर्स के साथ की शादी दिवाली पर पिछले 500 सालों में नहीं बना ऐसा दुर्लभ महासंयोग सोना खरीदने से पहले खुद पहचानें असली है या नकली धनतेरस में भूल कर भी न ख़रीदे ये वस्तुएं दिवाली पर रंगोली कहीं गलत तो नहीं बना रहे Ananya Panday करेगीं अपने से 13 साल बड़े Actor से शादी WhatsApp में आ रहे 5 कमाल के फीचर ये कपल को जमकर किया जा रहा ट्रोल…बच्ची जैसी दिखती है पत्नी