April 24, 2024 12:46 pm
Search
Close this search box.
Srinath University Adv (1)

यह होली से पहले की होली है और इसके लिए देश के प्रधानमंत्री के हम सभी आभारी हैं क्योंकि उन्होंने जो कहा करके दिखाया – वीरेन्द्र सचदेवा

Xavier Public School april

सोशल संवाद/दिल्ली (रिपोर्ट – सिद्धार्थ प्रकाश): दिल्ली भाजपा अध्यक्ष वीरेन्द्र सचदेवा ने आज पहली पर पाकिस्तान से आये हिन्दू शरणार्थी एवं अफगानिस्तान से आये सिख एवं हिन्दू शरणार्थी को सी.ए.ए. लागू होने के बाद एक मंच पर सम्मानित किया और सभी शरणार्थियों जो अब नागरिक होंगे को गुलाल लगाकर खुशियां मनाई।

शरणार्थियों ने एक पत्र भी वीरेन्द्र सचदेवा को दिया जिसमें उन्होंने अपनी भावनाओं को बताते हुए प्रधानमंत्री के प्रति आभार व्यक्त किया। मीडिया प्रमुख प्रवीण शंकर कपूर द्वारा संयोजित इस प्रेसवार्ता में चांदनी चौक जिला भाजपा अध्यक्ष सरदार कुलदीप सिंह, मीडिया रिलेशन प्रमुख विक्रम मित्तल एवं  निगम पार्षद हरेश ओबरॉय के साथ पाकिस्तान से आये हिन्दू शरणार्थी के प्रतिनिधि एवं अफगानिस्तान से आए सिख एवं हिंदू शरणार्थी के प्रतिनिधि भी उपस्थित थे। प्रवीण शंकर कपूर ने कहा भारत सरकार ने आज से शरणार्थियों को भारतीय नागरिक का दर्जा दे दिया है, अब यह घरवाले हैं।

वीरेन्द्र सचदेवा एवं उपस्थित शरणार्थी प्रतिनिधियों ने एक दूसरे को गुलाल लगाकर अपनी खुशी जाहिर की और सभी को बधाई देते हुए कहा कि यह होली से पहले की होली है और इसके लिए देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का हम सभी आभारी हैं क्योंकि जो कहा वह करके दिखाया। सचदेवा ने कहा जब मैं पहली बार इन लोगं से मिला तो हमने आशा व्यक्त की थी कि एक समय आएगा जब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आप सभी की मांगों को पूरी करेंगे क्योंकि हमें अपने शीर्ष नेतृत्व पर भरोसा था और आज उस भरोसे का परिणाम सामने हैं। सचदेवा ने कहा कि जो लोग पाकिसातन से आए उनकी गलती सिर्फ इतनी थी कि बंटवारे के समय उनके हिस्से में पाकिस्तान आया। उन्होंने कहा कि मैं इस दर्द को समझता हूं क्योंकि मेरे माता पिता ने 1947 का बंटवारा देखा है।

एक सिख युवक का परिचय कराते हुए वीरेन्द्र सचदेवा ने कहा की आज हमारे देश में ऐसे भी शरणार्थी हैं जिन्हें सी.ए.ए. लागू होने के बाद अब 30 वर्ष की आयु में पहचान मिलेगी। आज लाखों लोगों की आंखों के आसूं पोछने का काम प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया है। दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि यह भावुक पल है और यह कानून जब संसद में पास हुआ तो उसी दिन तय हो गया था कि शरणार्थियों को रहने में जितनी भी कानूनी बाधाएं आ रही थी, अब वह सभी खत्म हो गई है।

उन्होंने कहा कि अपने भारत के विकास में अब पाकिस्तान एवं अफगानिस्तान से आए लोग भी अपना योगदान कानूनी रूप से दे सकते हैं। पाकिस्तान से आ कर वर्षों से मजनू का टीला पर रह रहे बुजुर्ग गोविंद राम ने कहा की हम गत 4 दशक से दिल से भारतीय थे आज मोदी जी की कृपा से कानून भी भारतीय हो गये अब हमारे बच्चे भी पढ़ लिख कर प्रधान मंत्री मोदी के सपनों का भारत बनायेंगे।

अफगानिस्तान से आ कर तिलक नगर में रह रहे सरदार प्यारा सिंह ने कहा की कभी हम अफगानिस्तान की अर्थ व्यवस्था के पहिये अब प्रधान मंत्री मोदी ने हमें भारतीय नागरिक बना कर भारत की अर्थ व्यवस्था में सहयोग देने का मौका दिया है हम भारत को अपना सब कुछ देंगे।

Print
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
जाने छठ पूजा से जुड़ी ये खास बाते विराट कोहली का जन्म एक मध्यमवर्गीय परिवार में 5 नवंबर 1988 को हुआ. बॉलीवुड की ये top 5 फेमस अभिनेत्रिया, जिन्होंने क्रिकेटर्स के साथ की शादी दिवाली पर पिछले 500 सालों में नहीं बना ऐसा दुर्लभ महासंयोग सोना खरीदने से पहले खुद पहचानें असली है या नकली धनतेरस में भूल कर भी न ख़रीदे ये वस्तुएं दिवाली पर रंगोली कहीं गलत तो नहीं बना रहे Ananya Panday करेगीं अपने से 13 साल बड़े Actor से शादी WhatsApp में आ रहे 5 कमाल के फीचर ये कपल को जमकर किया जा रहा ट्रोल…बच्ची जैसी दिखती है पत्नी