May 21, 2024 6:32 am
Search
Close this search box.
Srinath University Adv (1)

सूर्य मंदिर परिसर के छठ घाट में स्विमिंग पूल और बास्केटबॉल कोर्ट निर्माण के विरोध में निकला मशाल जुलूस

Xavier Public School april

सोशल संवाद/डेस्क : जमशेदपुर के सिदगोड़ा स्थित सूर्य मंदिर परिसर के पवित्र छठ घाट तालाब में स्विमिंग पूल और आध्यात्मिक स्थल शंख मैदान में बास्केटबॉल एवं वॉलीबॉल कोर्ट निर्माण कार्य के विरोध में शहर के धर्मप्रेमी सड़क पर उतर आए हैं। इस निर्माण कार्य का एक ओर जहां सूर्य मंदिर समिति ने कड़ी आपत्ति जताते हुए विरोध दर्ज किया है। तो वहीं, सूर्य मंदिर में आस्था रखने वाले लाखों श्रद्धालुओं में आक्रोश देखा जा रहा है।

सूर्य मंदिर परिसर के छठ घाट तालाब में निर्दलीय विधायक के द्वारा स्विमिंग पूल और आध्यात्मिक एवं सांस्कृतिक स्थल शंख मैदान में बास्केटबॉल, वॉलीबॉल एवं कबड्डी कोर्ट निर्माण कार्य के विरोध में शनिवार को जमशेदपुर के विभिन्न थाना क्षेत्रों में हजारों धर्मप्रेमी बंधुओ ने मशाल जुलूस निकाला। इस दौरान लोगों ने मशाल एवं हाथों में तख्ती लेकर पैदल यात्रा करते हुए आमजनों को विद्यायक सरयू राय की धर्म विरोधी मानसिकता पर जागरूक किया। लोगों ने विधायक सरयू राय के धर्मविरोधी मानसिकता के विरोध में नारेबाजी कर लोगों को पत्रक बांटकर जागरूक किया। मशाल जुलूस के दौरान विभिन्न थाना क्षेत्र के लोगों में आक्रोश देखा गया।

मशाल जुलूस में शामिल लोगों ने कहा कि विद्यायक बनने के बाद से ही क्षेत्र की बढ़ते समस्याओं और ध्वस्त हो रहे कानून व्यवस्था पर कोई ठोस पहल ना कर निर्दलीय विधायक अनावश्यक विवाद उत्पन्न कर सिर्फ सुर्खियों में बने रहना चाहते हैं। लोगों ने कहा कि सूर्य मंदिर जमशेदपुर ही नही अपितू पूरे झारखंड में श्रद्धालुओं के अटूट आस्था और अपने सौंदर्य के लिए प्रसिद्ध है। श्रद्धालु मंदिर परिसर में बने सूर्य मंदिर, शिवालय, राधा-कृष्ण, माँ दुर्गा, वीर बजरंगबली के दर्शन के साथ अयोध्याधाम की तर्ज पर बने भव्य श्रीराम मंदिर में पूजा-अर्चना कर आशीर्वाद प्राप्त करते हैं। लोकआस्था के महापर्व छठ महापर्व पर मंदिर परिसर में बने दोनों छठ घाट पर हजारों व्रतधारी माताएं-बहनें प्रतिवर्ष भगवान भास्कर को अर्घ्य अर्पित करते हैं।

लोगों ने कहा कि जमशेदपुर के विभिन्न क्षेत्रों में कई स्थान बिना किसी उपयोग के खाली पड़े हैं, उन स्थानों पर विधायक द्वारा निर्माण ना कर छठ पूजा से कुछ माह पूर्व फिरसे सूर्य मंदिर में विवाद उत्पन्न करने का कुत्सित प्रयास किया जा रहा है। मशाल जुलूस में शामिल अन्य लोगों ने कहा कि निर्दलीय विधायक को विकास कार्यों को करने से कहीं अधिक दिलचस्पी विवाद पैदा कर सुर्खियों में बने रहने की है। कई मौकों पर देखा गया है कि अनावश्यक बयानबाजी और विवाद के बिना क्षेत्र में कोई काम नही होता है।

मशाल जुलूस में राजीव मिश्रा, धीरज पासवान, राकेश चौधरी, शशि सिंह, देवानंद सिंह, सौरव श्रीवास्तव, आशीष कुमार, सतेंदर रजक, अनिकेत सिंह, अमिश अग्रवाल, दीपक मुखर्जी, रबीन्द्र घोष, ममता कपूर, चंद्रकाता सिंह, सपना डे, नरेंद्र सिंह, रंजीत सिंह, रिशव सिंह, कमल गुप्ता, सुमित अग्रवाल, पंकज शर्मा, नवीन कुमार, नौशाद खान, विपिन सिंह, ओमी सिंह, शशांक शर्मा, महेंद्र रजक, उमेश, दयाल कंसारी, सुमन झा, शशि रंजन दयाल, मिलन, सूरज, भोला सिंह, राजा दुबे, पिंटू पांडे, रितेश झा,बलवान सिंह, मिठू चौधरी, बिनोद झा, महिला मोर्चा अध्यक्ष मधु तांती , रामदुलारी , राज कोर, सुषमा, लक्ष्मी यादव, सीता देवी, चंपा देवी, लीना देवी , करपुरा सुंडी, अनिल हांसदा, सत्य राव, वापी परीदा, श्रवण सिंह, अविनाश, दीपक बनर्जी, समीर, जितेंद्र तिवारी, जितेंद्र ओझा,, विकास डे, सत्यनारायण पाल, सुनील सिंह, कृष्ण राव, मोहन पांडे, मनोज बेहरा समेत धार्मिक, सामाजिक संगठनों से जुड़े लोगों के साथ हजारों आमजनों ने सक्रिय रूप से भाग लिया।

Print
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
जाने छठ पूजा से जुड़ी ये खास बाते विराट कोहली का जन्म एक मध्यमवर्गीय परिवार में 5 नवंबर 1988 को हुआ. बॉलीवुड की ये top 5 फेमस अभिनेत्रिया, जिन्होंने क्रिकेटर्स के साथ की शादी दिवाली पर पिछले 500 सालों में नहीं बना ऐसा दुर्लभ महासंयोग सोना खरीदने से पहले खुद पहचानें असली है या नकली धनतेरस में भूल कर भी न ख़रीदे ये वस्तुएं दिवाली पर रंगोली कहीं गलत तो नहीं बना रहे Ananya Panday करेगीं अपने से 13 साल बड़े Actor से शादी WhatsApp में आ रहे 5 कमाल के फीचर ये कपल को जमकर किया जा रहा ट्रोल…बच्ची जैसी दिखती है पत्नी