February 23, 2024 5:14 am

कल्याण विभाग को छात्रवृत्ति भुगतान के लिए लाभार्थी नहीं मिल रहे हैं….आधार लिंक नहीं होने से लटकी भुगतान प्रक्रिया

सोशल संवाद/डेस्क : झारखंड सरकार के द्वारा राशि आवंटित करने के बाद भी रांची जिला कल्याण विभाग को छात्रवृत्ति भुगतान के लिए लाभार्थी नहीं मिल रहे हैं। कई बार सार्वजनिक सूचना प्रसारित करने व विज्ञापन निकालने के बाद भी छात्रों के द्वारा त्रुटि नहीं सुधारी जा रही है। इस वजह से अनुसूचित जनजाति-अनुसूचित जाति छात्रों को सत्र 2022-23 का पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना का भुगतान नहीं हो पा रहा है।

यह समस्या एसटी छात्रों का बैंक से आधार लिंक नहीं होने के कारण हुई है। वहीं, सत्र 2023-24 में पोस्ट मैट्रिक के लिए आवेदन करने के लिए ई-पोर्टल के माध्यम से प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। 1 लाख 26 हजार एसटी-एससी छात्रों की लापरवाही के कारण उनके खाते में छात्रवृत्ति की राशि का भुगतान नहीं हो पाया है।

दूसरी ओर पिछड़ी जाति के छात्रों के लिए सरकार के द्वारा कल्याण विभाग को राशि आवंटित नहीं की गई है, जिस कारण पिछले सत्र की राशि ओबीसी छात्रों के खाते में भुगतान नहीं हो पायी है। इसकी वजह सरकार के पास कोषागार में राशि नहीं होना बताई गई है। इसी सत्र में अब तक 1 लाख 10 हजार 774 सभी श्रेणियों के छात्रों की छात्रवृत्ति का भुगतान कुछ दिनों पहले हो चुका है, परंतु विभाग के खाते में राशि समाप्त होने के कारण बाकी बचे हुए ओबीसी छात्रों की छात्रवृति भुगतान लटक गई। पूर्व में 54025 बीसी, 5141 और 51608 एससी छात्रों को भुगतान भी किया जा चुका है।

प्री-मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना का भी पिछले सत्र 2022-23 का भुगतान लटका हुआ है। इसमें भी बैंक से आधार लिंक नहीं होने व विभागीय खाते में पैसे नहीं होने के कारण सभी श्रेणियों के छात्रों को भुगतान नहीं हो पाया है।

रांची जिला के आंकड़े
पोस्ट मैट्रिक: सत्र 2022-23
आवेदन आए : 139,431
जांच हुए : 124,542
स्वीकृति : 81,429
राशि आवंटित : 1,448,402,523 रुपए

प्री-मैट्रिक-सत्र 2022-23
आवेदन आए : 183,443
जांच हुई : 181,518
स्वीकृति : 177,619
राशि आवंटित : 398,771,000 रुपए 

Our channels

और पढ़ें