March 4, 2024 5:58 pm

रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के दौरान स्मार्ट फोन इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे पुलिसकर्मी

Advertise

सोशल संवाद / डेस्क : अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को लेकर तैयारियां जोरों पर चल रही है। देश के प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी सहित 7000 विशिष्ट अतिथियों को आमंत्रित किया गया है। ऐसे में सुरक्षा में कोई चूक को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इसी को देखते हुए यूपी पुलिस कि ओर से सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। पुलिस मुख्यालय ने प्राण प्रतिष्ठा समारोह में तैनात पुलिसकर्मियों के लिए एक निर्देश जारी किया है। पुलिस मुख्यालय ने अपने निर्देश में कहा है कि प्राण प्रतिष्ठा समारोह में तैनात पुलिसकर्मी स्मार्टफोन का इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे।

निर्देशों के अनुसार, अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा समारोह के वक्त संवेदनशील इलाकों में ड्यूटी करने वाले पुलिसकर्मी स्मार्ट फोन का इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे, क्योंकि फोन का इस्तेमाल करते वक्त पुलिसकर्मी ड्यूटी पर ध्यान नहीं दे पाते। यह आदेश 22 से 26 जनवरी तक लागू रहेगा।

यह भी पढ़े : राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा का पूरा Schedule

मंदिर परिसर के लिए व्यापक सुरक्षा व्यवस्था के तहत पूरे क्षेत्र को रेड और येलो जोन में बांटा गया है। राम जन्मभूमि परिसर को रेड जोन में रखा गया है। सीआरपीएफ की 6 कंपनी, पीएसी की 3 कंपनी, एसएसएफ की 9 कंपनी, 300 पुलिस कर्मी, 47 फायरफाइटर, 38 एनडीआरएफ कर्मी और 40 रेडियो पुलिस कर्मियों को राम मंदिर और उसके परिसर की सुरक्षा की जिम्मेदारी सौंपी गई है। रेड और येलो जोन की ड्रोन से भी निगरानी की जाएगी। देशभर के प्रमुख दिग्गजों की सुरक्षा के लिए एजेंसी इंटेलिजेंस ब्यूरो और रॉ के साथ ही आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की मदद भी ली जाएगी।

साथ ही बम निरोधक दस्ते की दो टीमें, तोड़फोड़ रोधी दस्ते की दो टीमें और पीएसी की एक कमांडो यूनिट, एटीएस और एसटीएफ की एक-एक यूनिट, एनएसजी समेत केंद्रीय एजेंसियों की भी तैनाती की जाएगी। येलो जोन में सुरक्षा तैनाती में 34 सब-इंस्पेक्टर, 71 हेड कांस्टेबल और 312 कांस्टेबल शामिल होंगे।

Our channels

और पढ़ें